इस छोटे गांव की लड़की ने कर दिखाया कमाल, गाँव से निकलकर लिख दी सफलता की इबारत, 26 की उम्र में कमा रहीं 22 लाख रूपये सलाना।

Jyoti Sirsawa Inspiring Story

सफलता उम्र की मोहताज नही होती है, इस बात को इस 26 साल की लड़की ने सुच करके दिखाया है। आज भी महिलाओं और लड़कियों को घर तक ही सीमित समझा जाता है, लेकिन ऐसा नही है आज की महिलाये पुरुषो के साथ बराबर सफलता प्राप्त करते हुए देखी जा सकती है।

Jyoti Sirsawa Story in Hindi

आज हम आपको बताने जा रहे है, ज्योति सिरसवा (Jyoti Sirsawas) के बारे में जो राजस्थान की झुंझुनू जिले के परसराम गांव की रहने वाली हैं। इनके पिता का नाम शिवदान सिरसवा है जो रियल स्टेट का कार्य करते हैं। उनकी माता मंजू देवी हैं जो एक गृहिणी हैं।

ज्योति ने दसवीं कक्षा तक की पढ़ाई गांव से की, उसके बाद इंटरमीडिएट नवलगढ़ से किया। और वही  के ही पोद्दार कॉलेज से बीसीए का कोर्स किया। इसके बाद वह छोटे-छोटे मोबाइल ऐप बनाने लगी, धीरे-धीरे ज्योति की रूचि मोबाइल ऐप बनाने में अधिक बढ़ गई।

Jyoti Sirsawa inspiring story in Hindi

उसके बाद उन्होंने जयपुर के आईआईआईएम (IIIM) कॉलेज से एमसीए में नामांकन करवाया। इस दोरान वह app बनाते रही। जब वह एमसीए के चौथे सेमेस्टर में पहुची तो उन्होंने बीआर सॉफ्टेक कंपनी में 8000 मासिक तनख्वाह पर नौकरी करना शुरू कर दिया था।

उसके 6 महीने बाद जयपुर में कंटेंट इन्फो सॉल्यूशन में अच्छी नौकरी मिल गई, जिसमें उनकी मासिक तनख्वाह 40000 थी। उसके बाद ज्योति ने एक अमेरिकन कंपनी में मोबाइल ऐप बनाने का काम शुरू किया।

Jyoti Sirsawa story in Hindi

इस समय वह दुबई के ए के इन्टरनेशनल में एक टीम को लीड कर रही हैं। यह टीम ए के इंटरनेशनल हेल्थ इंटरफेम प्रोजेक्ट पर कार्य कर रही है। इसके द्वारा कई तरह के app बनाये जाते है, जिसमे चिकित्सा के क्षेत्र में मदद मिलेगी। इनके माध्यम से मरीज घर बैठे-बैठे चिकित्सा से सलाह ले सकेगा।

अभी ज्योति को यह कम्पनी 22 लाख सालाना पैकेज दे रही है। ज्योति सिरसवा अपनी मेहनत से जिस तरह है से निरंतर सफलता दर सफलता पाती जा रही है वह आज कई लडकियों और लडको के लिए प्रेरणा बन गयी है। इस समय उनकी उम्र ज्यादा नही हुई है, वह मात्र 26 साल की है और इस मुकाम पर पहुच गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...