20 महीने की बच्ची धनिष्ठा ने कैसे बचाई 5 लोगो की जिंदगी। आप भी जानकर हैरान हो जाओगे।

Dhanistha

आज हम आपको ऐसी छोटी सी योद्धा की कहानी बताने जा रहे हैं, जिसने छोटी सी उम्र में इतना बड़ा काम कर दिया है जिसे आप सब सुन कर हैरान रह जायेंगे। जी हाँ ये एक छोटी सी 20 महीने की लड़की है जिसका नाम धनिष्ठा हैं। धनिष्ठा दिल्ली की हैं, यह सबसे छोटी उम्र की लड़की है जिसने पांच लोगो की जान बचाई। आप सोच रहे होंगे इतनी छोटी सी बच्ची कैसे पांच लोगो की जान बचा सकती हैं पर ऐसा हुआ है इस नन्ही सी जान ने अपनी जान हार के पांच लोगो की जिंदगी बचा ली।

कैसे बचाई 5 लोगो की जान

इस नन्ही सी जान को सलाम हैं। आईये जानते है कैसे इस मासूम ने पांच लोगो को जीवन दान दिया। दरअसल धनिष्ठा दिल्ली के रोहिणी इलाके में रहने वाली एक छोटी सी बच्ची हैं। एक शाम धनिष्ठा अपने घर की पहली मंजिल पर खेल रही थी, खेलते खेलते धनिष्ठा निचे गिर गयी, फिर उसे तुरंत सर गंगा राम अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टर्स के बहुत प्रयास के बाद भी उस नन्ही सी जान को बचा नहीं पाए, डॉक्टर्स ने कहा की इसका ब्रेन डेड हो चूका हैं।

ब्रेन डेड का मतलब सिर्फ उस बच्ची का दिमाग काम नहीं कर रहा था, बाकि सारे अंग काम कर रहे थे। उनका परिवार शौक में होने के बाद भी उनके पिता आशीष और माँ बबीता ने बच्ची के अंग दान करने का फैसला लिया। उन्होंने कहा हमारी बच्ची तो रही नहीं पर हम उसके अंग दान करके पांच लोगो को जीवन देना चाहते हैं। उनके पिता आशीष ने कहा की हमने अस्पताल में देखा की बहुत लोग ऐसे है जिन्हे अंगो की जरूरत हैं।

छोटी सी धनिष्ठा का लिवर, दिल, दोनों किडनिया और दोनों कॉर्निया दान कर दिए गए और ऐसे इस छोटी सी नन्ही सी जान ने पांच लोगो को जीवन दे दिया। हम सभी को इस छोटी सी बच्ची से प्रेणा लेनी चाहिए। आज ये बच्ची हम सबके लिए एक मिसाल बन गयी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top
error: Please do hard work...