शहर छोड़कर पहाड़ों के बीचोंबीच बसा कपल, जमीन से 5 हजार फ़ीट ऊपर बनाया सूंदर घर – देखिये।

eco friendly home

शहरो को जिंदगी बड़ी भागदौड़ भरी होती है। यहां व्यक्ति हर समय सुकून, चैन और आराम ढूंढता है, लकिन उसे नहीं मिलता है। इसकी तलाश में कभी कुछ ऐसा कर जाता है, जिससे वह सुर्ख़ियों में आ जाता है। आज हम आपको एक ऐसे ही परिवार के बारे में बतायेगे जिसे शुकुन की जिंदगी जीने के लिए जमीन से 5 हजार फिट ऊपर घर बना लिया।

कौन है यह दम्पत्ति

Aditi Pokhriyal Anil Cherukupalli

इस दम्पत्ति  का नामअनिल चेरुकुपल्ली और अदिति है। इन्होने साल 2018 में शहर की दौड़ती भागती ज़िंदगी से दूर जाकर अपना एक सपनो का घर बनाया है। जिसकी वजह से आज यह सुर्खियों में बने हुए है। इस कपल ने पहाड़ों के बीचोंबीच प्रकृति की गोद में अपना घर बनाने का फ़ैसला किया। उनका घर इतना ख़ूबसूरत है कि बाहर से एक नज़र देखने भर से आपके मन को सुकून मिल जाएगा। इनका घर बेहद खूबसूरत जगह पर बना हुआ है जहा पर शांति एवं शुद्ध वातावरण है।

Eco Friendly Home

अनिल और अदिति ट्रेवल लवर्स है, इन दोनों को पर्यावरण से काफी प्रेम है। यह दोनों दोनों ‘वर्ल्ड वाइड फण्ड फ़ॉर नेच’ और वन्यजीवों व इकोसिस्टम के संरक्षण के दिशा में काम करने वाले गैर सरकारी संगठनो ( NGO) में काम कर चुके हैं। इस तरह की नौकरी के चलते ही उनके जीवन में इस तरह का बदलाव आया है। उन्हें अपने लिए ऐसी ही जगह चाहिए थी जहाँ वो आराम से और सुकून से रह सके, इसलिए उन्होंने पाना घर इतनी ऊंचाई पर बनाया है।

कहा बनाया घर

Eco Friendly Home

अनिल और अदिति ने अपना सपनो का घर उत्तराखंड के फगुनीखेत क्षेत्र में बनाया है। इस घर की ऊंचाई जमीन से 5000 फ़ीट ऊपर है। इस घर का नाम ‘faguniya farmstay’ रखा है। यह तीन मंजिला घर है। इसको बनाने में करीब 2 साल का समय लगा। इस घर को देखकर हर कोई आश्चर्य चकित हो जाता है और यह घर हर किसी का मन मोह लेता है। इसमें भूकंप प्रतिरोधी सुविधा भी है। घर की मजबूती ऐसी है कि 100 सालों तक कमजोर नही पड़ेगा इसको बनाने में पत्थर और लकड़ी का इस्तेमाल किया गया है। घर कुमायूँ के पारंपरिक ‘आर्किटेक्चरल प्रैक्टिसे’ से बनाया गया है और कपल यह सुकून का जीवन व्यतीत कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...