महिलाओं के लिए नर्क से भी बत्तर है अफगानिस्तान, तालिबान ने बना रखे है खौफनाक नियम।

afganistan women rule

आपको बता दे की अफगानिस्तान का 80 फीसदी से भी ज्यादा हिस्सा तालिबान के कब्जे में आ गया है और जिसके चलते तालिबान ने इस देश में तहलका मचा रखा है। तालिबान ने अफगानिस्तान की महिलाओं का जीवन नर्क से भी बत्तर कर दिया है, इन्होने यहाँ की महिलाओं के लिए इतने कड़क नियम और कानून बनाये है और इन सब कानूनों का पालन करना भी इन महिलाओं के लिए अनिवार्य है। अगर कोई महिला इन नियमो का पालन नहीं करेंगी तो उन्हें दंड दिया जायेगा। तो आईये आज के इस आर्टिकल में हम आपको इन नियमो के बारे में बताते है।

afganistan women rule

धीमी आवाज में करे बात – यहाँ रहने वाली महिलाओं के लिए नियम है की वह केवल धीमी आवाज में ही बात कर सकती है, यहाँ का मानना है की महिलाओं की आवाज किसी अनजान आदमी को नहीं सुनाई देना चाहिए।

afganistan women rule

हिल्स नहीं पहन सकती – आपको बता दे की तालिबान ने महिलाओं को हिल्स पहनने पर पाबंदी लगा रखी है। यहाँ का मानना है की इनसे निकलने वाली आवाज पुरुषो को रास्ता भटका देती है।

afganistan women rule

अकेली महिला का बाहर जाना है मना – आपको जानकर हैरानी होगी की यहाँ महिलाओं को अकेले घर से निकलने नहीं दिया जाता और अगर महिलाये इस नियम का उलंघन करती है तो उन्हें कोडो से पीटा जाता है।

afganistan women rule

खिड़की या बालकनी से देखना है मना – यहाँ रहने वाली महिलाओं के लिए यह नर्क से कम नहीं है। यहाँ की महिलाओं को बिना बुर्के के घर से बाहर निकलना मना है साथ ही वह अपनी घर की छत या बालकनी से बहार भी ही देख सकती। आप जान कर शौक हो जायेंगे की यहाँ के इलाको में घरो की खिड़कियां बंद रहती है और उन पर पेंट की मोटी परत चढ़ा दी जाती है ताकि बाहर के कोई पुरुष की नजर अंदर महिला पर ना पड़े।

afganistan women rule

नहीं दिखना चाहिए शरीर का कोई भी हिस्सा – यहाँ का नियम है की अगर किसी भी महिला का शरीर का कोई हिस्सा किसी अन्य पुरुष को दिख जाता है तो उस महिला को दंड दिए जाता है और यहाँ की महिलाये किसी अन्य पुरुष से बात नहीं कर सकती, किसी अन्य लड़के के साथ नहीं दिख सकती। अगर दिख जाये तो उसे बीच सड़क पर पीटा जाता है।

महिलाओं की तस्वीर लगाना है मना – यहाँ का नियम है की कोई भी दुकानों या पार्लर पर किसी महिला का नाम या तस्वीर नहीं लगाई जा सकती और जो लोग इस नियम का पालन नहीं करेगा तालिबान द्वारा उन्हें सजा दी जाएगी।

कहा जा रहा है की एक और नियम यहाँ बनने जा रहा है जिसके अंतर्गत तालिबान ने 15 से 45 साल तक की ऐसी महिलाओं की सूचि बनाना शुरू कर दी है जो अकेली हो या फिर विधवा हो, ताकि उनसे तालिबान के लड़को की शादी करवाई जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...