ऐसा क्या हुआ की बाप को गम छुपा कर बेटी की शादी करना पड़ी, और बेटे का अंतिम संस्कार

Untold Story

आज हम आपको एक दिल दहलाने वाला किस्सा बताने जा रहे हैं। जिसे सुन कर आप भी अपने आसूं नहीं रोक पाएंगे। यह मामला कानपुर का हैं, यहाँ एक तरफ तो बहन की शादी हुई और दूसरी तरफ भाई की अर्थी उठी। सुन कर चौक गए ना आप, जी हाँ यह बिलकुल सच हैं। यहाँ एक बहन की शादी के बिच उसके भाई की मौत हो गयी, लेकिन लड़की के पिता ने किसी को पता नहीं चलने दिया और शादी की विधिया करता रहा।

लड़की की माँ बार बार अपने बेटे के बारे में पूछती रही, लेकिन लड़की का पिता ने उन्हें नहीं बताया की आखिर हुआ क्या हैं। क्या आपने कभी देखा है की बेटी की डोली उठाने के बाद कैसे एक पिता ने अपने जवान बेटे की अर्थी को कन्धा दिया।

दरअसल यह कानपुर के झाला मंगलपुर के निवासी पूर्व फौजी की बेटी का किस्सा हैं। यहाँ शादी का फंक्शन चल रहा था, बारात आगयी थी। यह फंक्शन घर के थोड़ी दूर एक गेस्ट हाउस में चल रहा था। बारात के स्वागत की त्यारियां चल रही थी, उसी बिच दुल्हन का बड़ा भाई कुछ सामान लेने उनके घर गया। घर से वापस आते समय दुल्हन के भाई को एक बाइक ने टक्कर मार दी।

आस पास के लोगो ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया, जहाँ डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। दुल्हन का भाई 19 साल का था, जिसका नाम हिमांशु यादव था। यह खबर जब दुल्हन के पिता को दी गयी तो वह पूरी तरह से टूट गए। अपने बेटे की लाश देख के उनके पिता फुट फुट कर रोये, लेकिन उन्होंने अपनी हिम्मत को बांधा और किसी को भी नहीं बताया और शादी की सारी रस्मे पूरी की और अपनी बेटी को बिदा किया।

अपनी बेटी को बिदा करने के बाद जब उन्होंने उनके बेटे की मौत की खबर घर में सुनाई तो घर में मातम छा गया। उनकी माँ छोटा भाई और पिता अपने आप को संभाल नहीं पाए। ससुराल पहुंचने के बाद जब भाई की मौत की खबर मिली तो अंजू अपने आप को रोक नहीं पायी और अपने पति के साथ अपने भाई के घर आयी और उसके मृत शरीर से लिपट कर रोने लगी। रोते रोते वह बेहोश हो गयी। यह सब देख कर वहाँ मौजूद लोगो ने उन्हें संभाला और धीरज रखने को कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top