भजन कीर्तन में ताली बजाने से होती है ये 6 बीमारियां दूर – बस इस तरीके से बजाना होगी ताली।

क्या आपने कभी यह सुना है की ताली बजाने के भी बहुत से फायदे होते है। ताली अक्सर कोई सेलिब्रेशन के टाइम बजायी जाती है जैसे कोई भजन-कीर्तन, किसीका बर्थडे या फिर किसी की एनिवर्सरी हो तो बजायी जाती हैं। ताली बजा कर लोग खुश होते है और अपने आप में एक उत्साह पाते हैं। पर आज हम आपको बताने जा रहे है की ताली बजाने से हेल्थ में कौन कौन से फायदे होते हैं।

1. जिन भी लोगो को बैक पैन यानि पीठ में दर्द होता है उसे ये क्लैपिंग थेरेपी आजमाना चाहिए। यह हड्डियों से जुडी समस्या को भी कंट्रोल करता हैं।

2. ताली बजाने से डायबटीज़, नींद ना आना, सिरदर्द और आर्थराइट्स जैसी तकलीफो में बहुत चैन मिलता हैं और दिमाग को आराम भी मिलता हैं।

3. ताली बजाने से बच्चों की मेमोरी पावर तेज़ होती है और पॉजिटिव एनर्जी मिलती हैं। बच्चों का मन एकाग्र होता है और यही कारण है की कुछ स्कूल में क्लैपिंग थेरेपी का प्रयोग होता हैं।

4. ताली बजाने से मानसिक तनाव भी कम होता होता है और दिमाग को नेगेटिव चीजों से दूर रखता हैं।

5. ताली बजाने से ब्लड का सर्कुलेशन शरीर में बढ़ता है और बेड केलेस्ट्रॉल कम होता हैं।

6. जहाँ पूरी दुनिया में कोरोना का कहर चल रहा है वही आपके लिए ये जानकारी बहुत अच्छी है की ताली बजाने से अपने शरीर की इम्युनिटी भी बढ़ती है और इस माहौल में इम्युनिटी बढ़ना बहुत ही जरुरी है। इससे आपके शरीर में वाइट ब्लड सेल्स की संख्या बढ़ेगी और बीमारियां नहीं होगी।

7. क्लैपिंग थेरेपी का इस्तेमाल सुबह सुबह करना चाहिए और दिनभर में कम से कम 1500 बार ताली बजाना चाहिए। ताली बजाते समय अपने हाथ में नारियल या सरसो का तेल होना चाहिए और जब भी ताली बजाए ध्यान रखे उँगलियों की टिप एक-दूसरे से टच हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top