कोरोना काल में भी चीन ने भारत को एक बार फिर से दिया बड़ा धोखा।

Bharat China

भारत ओर चीन कुछ समय से दोनों देश एक दूसरे के दुश्मन बन गए हैं। देखा जाए तो भारत ही नहीं चीन को तो कई देश अपना दुश्मन मानते हैं। और अगर देखा जाए तो कोरोना वायरस के दुनिया में फैलने के बाद से चीन कई देशों का दुश्मन बन चूका हैं। और दूसरा कारण यह भी है की चीन अपनी विस्तारवाद की निति से भी अलग-थलक पड़ता दिख रहा हैं। लेकिन चीन फिर भी अपनी आदत से बाज नहीं आता हैं। चीन ने हाल ही में भारत को मेडिकल मदद भेजने की बात कही थी। और एक बार फिर से चीन ने भारत के साथ धोखा किया हैं।

पहले भेजना चाहता था मेडिकल सप्लाई, फिर बंद कर दी भारत को आने वाली फ्लाइट

Bharat

भारत में पिछले कुछ समय से ऑक्सीजन और मेडिकल सामग्री की कमी आ गई हैं। जिसे देखते हुए चीन ने खुद भारत से आगे रह कर कहा था की भारत के इस मुश्किल वक्त में हम भारत के साथ खड़े हैं, और हमसे जो भी मदद हो पाएगी हम भारत की मदद करेंगे। अब चीन कुछ मशीने भारत भेजने ही वाला था और कुछ भारतीय व्यापारियों ने भी मंगाने का कार्य शुरू कर दिया। जिसके बाद खुद चीन ने ही अपने और भारत के बीच कार्गो सेवा ही रद्द कर दी।

China

जाहिर है चीन इसे बंद करने के लिए कुछ तो बहाना देता, तो उसने इसके पीछे कोरोना का बहाना ही दे डाला। अब पहले तो चीन बोलता है की हम भारत की मदद करेंगे। और फिर जब भारत कुछ मशीने आर्डर करके मंगवाता है तो चीन, अपने और भारत के बीच कार्गो विमान ही रद्द कर देता हैं। अब ऐसे में यह चीन का भारत के साथ धोखा ही हुआ।

Cargo flight

बात यहीं नहीं रुकी, या यूँ कहें की धोखा सिर्फ यहीं तक नहीं रुखा। भारत ने जो मशीने चीन से मंगवाई थी जिससे की ऑक्सीजन बन सके। उसके दाम भी चीन ने 30-40 प्रतिशत बढ़ा दिए। ताकि इस कोरोना काल में भी वो भारत से अच्छा खासा पैसा कमा सके।

खेर आपको बता दे की चीन ने भारत के साथ ही धोखा नहीं किया हैं। इस कोरोना जैसी महामारी में चीन भारत के साथ कई और भी देश हैं जिसके साथ धोखा कर चुका हैं। यहां तक की चीन अपने दोस्त पाकिस्तान को भी इस धोखे देने की अपनी प्रथा में नहीं बक्शा था। और कोरोना के समय में ख़राब मास्क दे दिये थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top
error: Please do hard work...