एक जोड़ी चप्पल और 300 रूपए ले कर घर छोड़ा था आज 7.5 करोड़ की कंपनी की मालकिन हैं।

Chinu Kala Success Story

कुछ कपड़ो और एक जोड़ी चप्पल के साथ 15 साल की उम्र में घर से निकल गई थी चीनू कला। चीनू कला घर के माहौल से परेशान थी। जिसके कारण उसने घर छोड़ने का फैसला लिया था और चीनू ने मुंबई छोड़ दी थी। जब चीनू ने अपना घर छोड़ा तब चीनू के पास रहने की कोई जगह नहीं थी चीनू रोड़ पर आ गई थी। जिस समय चीनू ने घर छोड़ा तब उसके पास महज 300 रूपए थे।

चीनू ने एक जगह देखी जहाँ पर उसे एक रात गद्दे पर सोने के 20 रूपए किराये के देने होते थे। चीनू कुछ दिन काम ढूंढती रही जिसके बाद उसे एक काम मिला जिसमे उसे चाकू के सेट घर-घर जा कर बेचना होते थे। यानि की चीनू को सेल्स गर्ल का काम मिला। जो चीनू ने किया और दिन के 20-60 रूपए कमाने लगी।

आप तो जानते ही है सेल्स गर्ल का काम कितना मुश्किल होता है। और यही हाल कुछ चीनू का था। चीनू के लिए यह काम इतना आसान नहीं था क्योकि लोग मुँह पर गेट लगा देते थे। लेकिन चीनू ने फिर भी अपना मनोबल नहीं गिरने दिया और पहले से भी ज्यादा मजबूती के साथ काम करने लगी।

चीनू ने अपनी पूरी जी जान लगा दी इस काम को करने के लिए और उसने अच्छा काम किया और चीनू को 1 साल बाद ही प्रमोशन मिल गया और चीनू अब सुपरवाइजर बन गई थी। जिसमे चीनू के हाथ के नीचे 3-4 लड़कियाँ थी जिसे चीनू को ट्रेनिंग देना होती थी। इसके साथ ही चीनू की सैलरी भी बढ़ गई थी।

चीनू से हुई बातचीत में, चीनू ने बताया की वह हमेशा से एक बिज़नेस पर्सन बनना चाहती थी। लेकिन मेरे लिए एक ऐसा भी समय था जब मेरी सफलता का मतलब होता था की दो वक्त की रोटी जुटा पाना।

चीनू ने 15 साल की उम्र में घर छोड़ दिया था जिसकी वजह से वह अपनी पढाई भी पूरी नहीं कर पाई। और चीनू ने सेल्सगर्ल के बाद एक रेस्टोरेंट में भी बतौर वेटर्स काम किया और अगले तीन सालों में उन्होंने खुद को आर्थिक रूप से स्थिर कर लिया।

साल 2004 में चीनू की जिंदगी में अचानक से मोड़ आया और चीनू ने अमित कला से शादी कर ली और बैंगलोर शिफ्ट हो गई। हालांकि आगे चल कर अमित कला चीनू के लिए बहुत बड़ा सहारा बने। जिसके 2 साल बाद चीनू को उनके दोस्तों ने बहुत बोला जिसके बाद चीनू ने Gladrags मिसेज इंडिया पेजेंट में भाग ले ही लिया। जिसमे बहुत सारे अन्य प्रतिभागी अच्छे थे लेकिन चीनू तो जिसमे ज्यादा शिक्षित भी नहीं थी।

आपको जानकर हैरानी होगी की जिसके बाद भी चीनू ने हिम्मत नहीं हारी और बड़ी हिम्मत के साथ चीनू अपने कॉन्फिडेंस के साथ आगे बड़ी और इस पेजेंट में वह फाइनल के प्रतिभागियों में से एक थी और इसी के साथ चीनू के लिए कई सारे अवसरों के दरवाजे खुल गए। बता दे की चीनू फैशन जगत में भी एक मॉडल बन चुकी हैं।

साल 2014 में रुबंस कंपनी की नीव रखी। जहाँ पर एथनिक और वेस्टर्न हर तरह की ज्वेलरी जिनकी कीमत 229 से 10,000 रूपए के बीच होती थी। जो की बंगलुरु से स्टार्ट हुआ था और आज कोच्चि और हैदराबाद में भी इस शाखाएँ हैं। शुरुआत में इस कंपनी में भी उतार-चढ़ाओ आए लेकिन बाद में फिर चीनू ने अपनी पैठ बना ली और पिछले साल इस कंपनी का रेवेन्यू 7.5 करोड़ रूपए था। आज चीनू 25 लोगो को सैलरी देने के काबिल है जो की चीनू की सफलता के बारे में बहुत कुछ बयां करता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top