अगर कोरोना महामारी में माँ-बाप के साथ अनहोनी हो जाए तो बच्चों का ध्यान कौन रखेगा? – जाने सरकार के दिशा निर्देश।

Children Care Team

आप भी जानते है की कोरोना महामारी के चलते कई लोगो के पूरे पूरे घर खत्म हो गए। आपको जानकर हैरानी होगी की देश में हर रोज चार लाख से ज्यादा मरीजों की संख्या देखने को मिल रहे है और कई लोग इस बीमारी से अपनी जिंदगी गवा रहे है। ऐसे में कोई अपनी माँ तो कोई बहन तो कोई पिता या कोई अपना भाई गवा चुके है। ऐसे में सरकार का उन बच्चो की तरफ ध्यान केंद्रित हुआ है जिनके परिजनों का इस महामारी से निधन हो चूका हैं।

Child Care Team

आज हम आपको बताने जा रहे है की सरकार ने और बाल विकास मंत्रालय ने इस चीज में क्या पहल की हैं। दरअसल बाल विकास मंत्रालय ने स्वास्थ और परिवार कल्याण विभाग को एक पात्र लिखा और उसमे लिखा की कोविड मरीजों से जो फॉर्म फील करवाया जाता है उसमे एक और कॉलम जोड़ा जाए। उस कॉलम में ये बताया जाए की माता पिता के निधन के बाद उनके बच्चे का ध्यान कौन रखेगा।

Corona

दरअसल मंत्रालय का मानना है की देश में चल रही इस महामारी के चलते कई बच्चे आये दिन अनाथ हो रहे है ऐसे में ये होना बहुत जरुरी है की उनके बाद उनके बच्चो का ध्यान कौन रखेगा। और उस फॉर्म में उस कॉलम में यह जानकारी भी होना चाहिए की उनके ना रहने के बाद बच्चे की जिम्मेदारी कौन लेगा और साथ ही उस इंसान का नाम, पता फ़ोन नंबर या फिर उसका बच्चे से क्या रिश्ता है यह जानकारी भी हो।

अगर किसी बच्चे को कोई सँभालने वाला नहीं है तो ऐसे बच्चे को फिर चाइल्ड वेलफयर कमेटी को सौप दे। मंत्रालय की और से यह कदम बहुत ही अच्छा है, क्योकि कितनी बार ऐसा होता है की माँ बाप अस्पताल में भर्ती होने आते है और पीछे से उनके बच्चे घर पर अकेले ही होते है उन्हें सँभालने वाला कोई नहीं होता है। जिससे उनका भविष्य संकट में पड़ जाता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top