नोट के किनारों पर बनीं तिरछी लाइनों का क्या होता है मतलब? जानिए ये क्यों बनाई जाती हैं…?

currency note

आपने कभी ध्यान दिया हो तो देखा होगा नोट पर कुछ तिरछी लाइन बनी होती है, सबसे खास बात तो यह है की नोट की कीमत के हिसाब ये इनकी संख्या घटती बढ़ती रहती है। आपने कभी सोचा है की यह लकीर नोटों पर क्यों बनाई जाती है आपको जानकर बड़ा ही आशचर्य होगा की इन लकीरो से काफी अहम जानकारी मिलती है।

चलिए आज हम आपको बताते है की 100, 200, 500 और 2000 के नोटों पर बनी इन लाइनों का क्या मतलब है। जो नोटों पर ये लाइन होती है इन्हे ब्लीड मार्क्स कहते है और यह ब्लीड मार्क्स खास नेत्रहीनो के लिए बनाये गए है। नोट पर इन लाइनों के जरिये वह बता सकते है की यह कितने रुपये का नोट है।

Currency note interesting fact

100, 200, 500 और 2000 के नोटों पर अलग अलग संख्या में लकीरे होती है जो इनकी कीमत बताती है। आपको बता दे की 100 के नोट पर दोनों तरफ चार चार लकीरे होती है और 200 के नोट पर दोनों तरफ चार चार लकीरे है साथ ही इसके साथ दो दो जीरो लगे है। उसके बाद 500 के नोट में पांच और 2000 के नोट में सात सात लकीरे होती है।

नेत्रहीन इन लकीरो ने नोट की कीमत समझ जाते है। 2000 के नोट के पिछले हिस्से में मंगलयान की फोटो छपी है और 500 रूपये के नोट में लाल किले की फोटो छपी है। इसी के सत्ज 200 रूपये के नोट के पीछे साँची स्तूप की फोटो छपी है और 100 रुपये के नोट में “रानी की वाव” की फोटो छपी हुआ है जो एक बावड़ी है जो गुजरात के पाटन जिले में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top
error: Please do hard work...