17 दिन से रखें हुए है सूबेदार अपने बेटे का शव डीप फ्रीजर में -वजह जान चौक जाओगे।

UP Sultanpur News

आपने कुछ समय पहलर सुल्तानपुर में कूरेभार क्षेत्र के सरैया मझौवा के सूबेदार के बेटे की खबर को पढ़ा होगा, इन्होने अपने बेटे की संदिग्ध अवस्था में मृत्यु हो गयी थी, जिसके बाद उन्होंने अपने बेटे के शव को डीप फ्रीजर में रख लिया था। जिसके बाद अब उस पर कार्यवाही के लिए विधायक ने उनकी मदद की है, जानिये पूरी खबर।

Sultanpur News

कूरेभार क्षेत्र के सरैया मझौवा जो सेना में सूबेदार थे, उनका बड़ा बेटा शिवांक की एक अगस्त को दिल्ली में संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। परिजनों के मुताबिक मौत से कुछ दिनों पहले ही शिवांक ने अपने छोटे भाई इशांक को फोन कर अपनी जान को खतरा बताया था। जिसके बाद उनकी मृत्यु हो गयी। बेटे की मौत की सूचना रिटायर्ड सूबेदार शिव प्रसाद पाठक के दामाद ने दी तो वे अपने छोटे बेटे इशांक के साथ दिल्ली गए। जब वह पहुंचे तब तक उनके बेटे का पोस्टमार्टम हो चूका था और उन्हें इसकी हत्या की आशंका थी। लेकिन पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से नहीं।

Sultanpur News

उसके बाद वह बेटे का शव लेकर तीन अगस्त को गांव चले आए और डीप फ्रीजर में रखकर दोबारा पोस्टमॉर्टम व केस दर्ज कराने की मांग करने लगे। उन्होंने पुलिस व प्रशासन से निराश होने के बाद न्यायालय में शरण ली थी। उन्होंने आरोप लगाया की मृतक की पत्नी व उनके साथ रही दिल्ली की पार्टनर पर हत्या का केस दर्ज कराने के लिए सीजेएम कोर्ट में अर्जी दी थी। लेकिन बुधवार को सीजेएम किरण गौड़ ने उनकी अर्जी खारिज कर दी थी।

crime News

उसके बाद भाजपा विधायक सूर्यभान सिंह ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है, उन्होंने मेडिकल टीम गठित कर पुन: पोस्टमॉर्टम कराने की मांग के लिए आवेदन किया है।

रिटायर्ड सूबेदार शिव प्रसाद पाठक ने बृहस्पतिवार को कहा कि उन्होंने हार नहीं मानी है, वह बेटे को इंसाफ दिलाने के लिए जिला जज की कोर्ट में अपील करेंगे। सीजेएम कोर्ट से खारिज की गई अर्जी की नकल अधिवक्ता जयंत मिश्र के माध्यम से निकलवा रहे हैं। उसकी कॉपी मिलते ही जिला जज की कोर्ट में चुनौती देंगे। वह अपने बेटे को न्याय दिलाने के लिए हर सम्भव कोशिश कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...