इसलिए शव को 1 मिनट भी अकेला नहीं छोड़ते हैं? जाने इसके पीछे के धार्मिक और वैज्ञानिक कारण।

death body ko akela kyo nhi chhodte

हमने कई बार सुना है, की मर्त शरीर को अकेले नहीं छोड़ा जाता जब तक की उसका क्रियाकर्म नहीं हो जाता है। यह प्रक्रिया जितनी जल्दी हो सके की जाती है, कई बार ऐसा भी होता है कि शव का अंतिम संस्कार करने में समय लग जाता है। जिसके कारण शरीर को अकेला नहीं छोड़ा जाता है।

Death body ko akela kyo nhi chhodte

मरने के बाद इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि मृतक के शव को भूलकर भी अकेला नहीं छोड़ना चाहिए। दाह संस्कार की प्रक्रिया होने तक उसके पास कोई न कोई जरूर रहना चाहिए। इसके पीछे गरुड़ पुराण में भी विस्तार से बताया गया है।

इसके पीछे के कारण –

Death body ko akela kyo nhi chhodte

  1. गरुड़ पुराण के अनुसार मृतक के शरीर को अकेला छोड़ना ठीक नहीं होता है। इससे नकारात्मक शक्तियां पैदा होती है. और यह रात के समय ज्यादा एक्टिव रहती हैं। बुरी शक्तियां शव में प्रवेश कर सकती है। जिससे यह परेशानी की वजह बन सकती है। इसलिए रात को शव को अकेला नहीं छोड़ना चाइये। 
  2. कहा जाता है, की मरने के बाद भी उसकी आत्मा अपने शव के आसपास ही भटकती रहती है। ऐसे में यदि आप उनके शव को अकेला छोड़ देते हैं तो मरने वाले को दुख होता है। इसलिए कोई न कोई रिश्तेदार उसके पास बैठता है। ऐसा नहीं करने पर दुखी आत्मा आपको श्राप भी दे सकती है।
  3. शव को अकेला न छोड़ने की एक वजह कीड़े मकोड़े का पनपना भी होता है। यदि आप शव को अकेला छोड़ दें तो इससे इनका भी खतरा बना रहता है। 
  4. कुछ लोग शव के अंगों या बालों का इस्तेमाल तांत्रिक क्रियाओं में भी करते हैं। यदि उसे अकेला छोड़ दिया जाए तो ऐसे व्यक्ति नुकशान पहुंचा सकते है। इससे मरने वाले की आत्म को मोक्ष प्राप्त नहीं हो पाता है।
  5. शव को अधिक देर तक रखने से उसमें से गंध निकलने लगती है। इसकी वजह से बैक्टीरिया पनपना शुरू हो जाते हैं। इसके लिए पास बैठकर अगरबत्ती जलाते रहते हैं।

Death body

इन्ही कारणों की वजह से भूलकर भी मृतक के शरीर को अकेला नहीं छोड़ना चाहिए। मानवता के आधार पर भी ऐसा करना गलत नहीं होगा। मरने वाले को पूर्ण सम्मान के साथ अंतिम विदाई देना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...