कौन ये 27 साल का लड़का जिसने भारत को दान दिए 7 हजार करोड़ रूपए – जाने इसके बारे में।

Ethereum Co Founder Vitalik Buterin

भारत के हालात कोरोना वायरस की वजह से बहुत ही ख़राब हो गए हैं। देश कोरोना वायरस की वजह से जिस संकट से गुजर रहा हैं वह बहुत ही चिंता जनक हैं। कोरोना के चलते कई शहरों में हालत बनी हुई हैं। भारत के संकट को भारतियों के साथ साथ विदेशी भी देख रहे है और समझ रहे हैं की भारत की स्थिति अभी कैसी हैं। ऐसे में हर कोई भारत की मदद करने के लिए आगे आ रहा हैं। कई देशों से ऑक्सीजन और मेडिकल सहायता मिल रही है। ऐसे में सब अपने अनुसार साथ भारत की मदद कर भारत के साथ खड़े हैं। ऐसे में रूस के 27 वर्षीय एक लड़के ने करीब 7 हजार करोड़ रूपए की मदद भारत को दी है।

Ethereum

आप हैरान हो गए होंगे की 27 वर्षीय लड़का इतनी मदद कैसे कर सकते हैं। तो हैरान मत होइये यह सही है रूस के एक लड़के ने क्रिप्टोकरेन्सी के रूप में भारत के कोरोना रिलीफ फंड में दान दिया हैं। जिसकी वैल्यू 1 बिलियन डॉलर हैं जिसे भारतीय रूपए में देखा जाए तो करीब 7358 करोड़ रूपए होते हैं। अब ऐसे में आपके लिए यह जानना बहुत ही जरुरी हो जाता है की यह लड़का आखिर हैं कौन। तो चलिए हम आपको बताते है इसके बारे में।

कौन है यह 27 वर्षीय लड़का जिसने भारत की मदद की?

Ethereum Co Founder

आपको बता दे की 27 वर्षीय इस लड़के का नाम वितालिक बुटेरिन हैं। जो की रूस का रहने वाला हैं। वितालिक बुटेरिन ने भारत को क्रिप्टोकरेन्सी के रूप में दान दिया है जिसकी अभी की वैल्यू 7 हजार करोड़ से भी ज्यादा हैं। आपको जानकार हैरानी होगी की वितालिक बुटेरिन दुनिया की दूसरी सबसे ज्यादा लोकप्रिय क्रिप्टोकरेन्सी ईथरियम के को-फाउंडर हैं। वितालिक ने इस क्रिप्टोकरेन्सी को 2015 में बनाया था जो की आज बिटकॉइन को टक्कर दे रही हैं।

बिटकॉइन के साथ-साथ ईथरियम की वैल्यू भी काफी बढ़ रही हैं। जिसे लोग भी काफी ज्यादा पसंद कर रहे हैं। वितालिक का जन्म सन 1994 में हुआ हैं। वितालिक ने कनाडा में पढाई की और आज रसियन-कनेडियन प्रोग्रामर हैं। वितालिक को उनके अनुभव की वजह से कई बड़े प्लेटफार्म पर सम्मानित भी किया गया हैं। वितालिक ने 2011 में बिटकॉइन मैगजीन की शुरुआत की थी जिसके बाद ईथरियम की शुरुआत की हैं।

वितालिक दान करने में मशहूर हैं

बता दे की भारत के पहले भी वितालिक कई और दूसरे देशों में भी दान दे चुके हैं जिसमे 2017 में मशीन इंटेलिजेन्स रिसर्च इंस्टिट्यूट को भी 7 लाख 63 हज़ार डॉलर और 2018 में SENS Research Foundation को 2.4 मिलियन डॉलर दान दे चुके हैं। इतना ही नहीं इसके अलावा भी वितालिक ने कई ओर संस्थाओं को भी दान दिया हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top