क्या सच में 26 मई से भारत में Facebook Twitter बंद हो जाएगा ? – जाने पूरी वजह।

Facebook Insta Twitter

अगर आपसे कोई कहे की भारत में आपसे सबसे चहेते सोशल मीडिया प्लेटफार्म बंद हो रहे है तो आपको कैसा लगेगा ? बहुत बुरा लगेगा। शायद आपके लिए बहुत बुरा लगना शब्द भी छोटा हो सकता हैं लेकिन आपको बता दे की आज २५ मई है और आज ही के दिन तीन महीनों का समय भी समाप्त हो रहा हैं। जिसके लिए इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन कंपनीयों को नए नियमों का पालन करने का आदेश दिया था। और कहा था की अगर ऐसे में Facebook, Twitter, Instagram जैसी कंपनी इन नियमों का पालन नहीं करती है तो उन्हें भारत से अपना कारोबार बंद करना होगा।

कब दिया था तीन महीने का समय

Facebook insta twitter

आपकी जानकारी के लिए बता दे की भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय की तरफ से इन कंपनीयों को २५ फरवरी २०२१ को ही ३ महीने का समय दे दिया था। और इन्हें डिजिटल कंटेंट को रेग्युलेट करने के दिशा निर्देश दिए गए थे। जिसके लिए कंप्लायंस अधिकारी, नोडल अधिकारी आदि को नियुक्त भी करने को कहा गया था। इस पर केंद्र सरकार ने कहा था की जिसे भी इसके लिए नियुक्त किया जाए उसका कार्यक्षेत्र भारत में ही होना चाहिए। इसके साथ ही सोशल मीडिया प्लेटफार्म को आपत्तिजनक कंटेंट की निगरानी के साथ ही साथ कंप्लायंस रिपोर्ट और आपत्तिजनक सामग्री को भी हटाना होगा।

जिस पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म की तरफ से यह कहा गया था की अगर नए नियमों के तहत कोई भी शिकायत मिलती है तो उसे २४ घंटे के भीतर ही स्वीकार करना होगा। इसके साथ ही १५ दिनों के अंदर ही अंदर कार्यवाही भी करनी होगी। और अगर कोई कार्यवाही नहीं भी होती है तो उसका भी कारण बताना होगा।

इन सभी नियमों को लेकर कुछ प्लेटफार्म से यह भी कहा था की उन्हें ६ महीने का समय चाहिए। और कुछ ऐसे भी प्लेटफार्म थे जिनका यह कहना था की उन्हें उनके हेडक्वार्टर से दिशा निर्देश नहीं मिले है जो की अमेरिका में स्थित हैं।

सिर्फ Koo कर रहा नियमों का पालन

आपको जानकर हैरानी होगी की अभी तक सिर्फ Koo ही ऐसा एक प्लेटफार्म है जो नए नियमों का पालन कर रहा हैं। Koo ने एक बयान में कहा है की, “Koo की प्राइवेसी पॉलिसी, टर्म्स ऑफ यूज और कम्यूनिटी गाइडलाइन्स पर लागू नियमों की आवश्यकताओं को दर्शाते हैं। इसके अलावा, Koo ने भारतीय निवासी मुख्य अनुपालन अधिकारी, नोडल अधिकारी और ग्रीवियंस ऑफिसर के सपोर्ट के साथ एक डिलिजेंस एंड ग्रीवियंस रेड्रेसल मैकेनिज्म को लागू किया है।”

अब ऐसे में Facebook, Twitter, Instagram जैसे अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म द्वारा समय सीमा समाप्त होने की स्थिति में, सरकार उनके खिलाफ आपराधिक कार्रवाई कर सकती है। अब देखा ये जाएगा की सरकार इनके खिलाफ क्या कार्यवाही करती हैं।

क्या है नया डिजिटल एथिक्स कोड

Ravishankar prasad

आप सोच रहे होंगे की ऐसा क्या है नए डिजिटल एथिक्स कोड में जो इतने बड़े सोशल मीडिया प्लेटफार्म उसे एक्सेप्ट करने में इतना समय ले रहे है। तो आपकी जानकारी के लिए बता दे की नए डिजिटल एथिक्स कोड में सरकार का लक्ष्य एक प्रोग्रेसिव इंस्टीट्यूशनल मैकेनिज्म बनाना है। केंद्रीय आईटी और संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि स्ट्रीमिंग सेवाओं के दुरुपयोग को रोकने और गलत सूचनाओं के सोर्स का खुलासा करने और 24 घंटे के अंदर उसे हटाने के लिए यह नया डिजिटल एथिक्स कोड तैयार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top