500 रूपए के लिए प्रेमी ने बेचा, गंगूबाई काठियावाड़ी की कहानी पढ़कर आ जायेगा रोना…

Gangubai Kathiyawadi

आज हम आपको गंगूबाई के बारे में बताने जा रहे हैं। दरअसल गंगूबाई नामक महिला गुजरात के काठीयावाडी की रहने वाली थी,जिससे उनका नाम गंगूबाई काठीयावाडी पड़ गया। उनका असली नाम गंगा हरजीवनदास काठीयावाडी था। आज हम आपको गंगूबाई के जीवन से रिलेटेड आयी फिल्म गंगूबाई के बारे में बताने जा रहे हैं।

इस फिल्म में गंगूबाई का किरदार आलिया भट्ट ने निभाया हैं। यह फिल्म संजयलीला भंसाली की हैं। आपको बता दे की इस फिल्म का टीजर रिलीज़ हो चूका हैं। आईये हम आपको बताते है कौन थी गंगूबाई। जैसा की हमने आपको बताया की गंगूबाई गुजरात के काठीयावाडी की थी। गंगूबाई को 16 साल की उम्र में ही प्यार हो गया था।

वह अपने पिता के अकाउंटेंट से ही प्यार करती थी। गंगूबाई हमेशा से हीरोइन बनना चाहती थी। आशा पारेख और हेमा मालिनी जैसी एक्ट्रेस की गंगूबाई बहुत बड़ी फैन थी। एक दिन गंगूबाई उस लड़के के साथ शादी कर के मुंबई भाग गयी, लेकिन उन्हें क्या पता था की उनकी किस्मत ही खराब थी। जिस लड़के से उन्होंने शादी की वह बहुत बड़ा धोकेबाज निकला।

उस लड़के ने गंगूबाई को मुंबई के कमाठीपुरा के रेड लाइट इलाके में एक कोठे पर मात्र 500 रुपये में बेच दिया। हुसैन जैदी की किताब के अनुसार करीम लाला नामक माफिया डॉन था उसकी गैंग के एक आदमी ने गंगूबाई का रेप किया था। जिसके बाद गंगूबाई ने करीम लाला से न्याय की गुहार लगाई थी। करीम लाला को गंगूबाई ने राखी बांध कर भाई बना लिया था।

आपको बता दे की आगे जाकर गंगूबाई मुंबई की सबसे बड़ी फीमेल डॉन बनी और तो और गंगूबाई को जिस इलाके में बेचा गया था उसी इलाके में गंगूबाई कोठे चलाती थी। बिना मर्ज़ी के वह कोई भी लड़की को अपने कोठे पर नहीं रखती थी। गंगूबाई काठीयावाडी की कहानी किताब “द माफिया क़्वीन ऑफ़ मुंबई” पर आधारित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top