बूढ़े विकलांग माँ-बाप को उनके पाँच बेटों ने घर से निकाला, जिसके बाद पिता ने जेल भेजकर ठिकाने लगाई अक्ल।

breaking news

मां बाप का बुढ़ापे में उनके बच्चो के अलावा कोई नहीं होता है। इस समय बच्चों की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। माँ बाप अपने बच्चों का बहुत ख्याल रखते हैं पर बच्चे जब बड़े हो जाते हैं तो मां-बाप को घर से बेदखल भी कर देते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमे अपने ही बच्चों ने विकलांग माँ बाप को घर से निकाल दिया है।

breaking news

मां बाप अपने बच्चों को तो पाल लेते हैं लेकिन बच्चे एक मां बाप को नहीं पाल पाते हैं। बुढ़ापे में मां बाप बच्चों के ऊपर बोझ के समान हो जाते है। आज हम ऐसे बेटों के बारे में जानेंगे जिन्होंने अपने विकलांग बुजुर्ग मां बाप को झोपड़ी में रहने पर मजबूर कर दिया। इतना ही नई वह 15 सालों से झोपड़ी में ही रह रहे थे। उनके एक नहीं पांच बेटे है लेकिन किसी ने उनका साथ नहीं दिया।

breaking news

हीरालाल साहू के पांच बेटे हैं, उन बेटों ने उनकी खरीदी हुई जमीन पर घर बना लिया है। उसके बाद पांचों बेटों ने घर बनाने के बाद विकलांग मां और बुजुर्ग पिता को घर से बेदखल कर दिया। अपने बेटों की इस हरकत को देखते हुए हीरालाल ने अपने बेटो के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दी। जिसके बाद उनके चार बेटे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Bhopal News

हीरालाल का एक बेटा भोपाल में रहता है जिसे पुलिस पकड़ नहीं पाई है। लेकिन उसे भी जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। पुलिस के गिरफ्तारी के बाद उन्हें जमानत भी मिल गई। हीरालाल के कारण उसके पांचों बेटे जेल से भी निकल गए और निकलने के बाद उनके बेटो को समझ आ गई की उनके साथ ऐसा करने का क्या परिणाम होता है।

इसके बाद वह माँ बाप को घर ले गए और उन्हें अब साथ रखने लगे है। हीरालाल अपने नौकरी के दौरान जुटाए हुए रकम जिला प्रशासन के माध्यम से बाढ़ पीड़ितों को दान दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...