गदर फिल्म को हुए 20 वर्ष – आखिर क्यों बनाना पड़ी भारत के विभाजन पर यह फिल्म, जाने पूरी कहानी।

Gadar Movie

पहले भारत में बहुत बुरे हालात थे, जिसमे लोगो के साथ बहुत बुरा सलूक किया जाता था, लेकिन भारत का नजरिया धीरे धीरे बदल रहा हैं। वो दिन गए जब भारत की कथित पंथनिरपेक्षता को बनाए रखने के लिए उल जुलूल नारे लगाए लगाये जाते थे, लेकिन बहुत से ऐसे लोग भी थे जो लोगो को लड़ने का काम करते थे एक धर्म से दूसरे धर्म के लोगो को लड़ाने का काम करते हैं।

Gadar Movie

जैसे हिंदू के सामने मुस्लिम लोगो की बुराई करते थे और मुस्लिम लोगो के सामने हिन्दू की बुराई करते थे, वो लोग देश में हिंसा करवाने का काम करते थे उस समय लाखों करोड़ों हिन्दू और सिखों को रातों रात उनके घरों से धक्के मारकर निकाल दिया गया था। इस पुरे मामले में न हिंदू की गलती थी और न ही सीखो की फिर भी इन लोगो को इनके घरो से बेघर कर दिया।

Gadar Movie

इनके बच्चो को अपने माता पिता के साये से अलग कर दिया था उस समय सबसे ज्यादा हिंसा तो धर्म के लिए होती थी और धर्म के लोगो को दूसरे लोग ही लड़वाते थे। एक समय ऐसा आया जब ये लोग किसी को मुँह दिखाने के काबिल नहीं रहे। इस समय पर एक फिल्म आई जिसने इन लोगो की बोलती बंद कर दी।

यह मूवी थी गदर – एक प्रेम कथा।

Gadar Movie

यह मूवी जब आई तो इस मूवी ने लोगो को सोचने पर मजबूर कर दिया की एक धर्म के लोग दूसरे धर्म के लोगो से किस प्रकार से लड़ते हैं इस मूवी के बाद अनेक लोगो ने अपने धर्म के अलावा भी दूसरे धर्म के लोगों को अच्छा सोचने पर मजबूर कर दिया इस मूवी में पुरे किरदार में एक ही चीज को अच्छी तरह से दिखाया गया वो है। धर्म के लिए कोई भी आपस में न लाडे सभी एक ही धर्म के हैं, वो हे मनुष्य सभी अपना मानव जीवन बिताने के लिए इस दुनिया में आये हैं।

Gadar Movie

इस लिए कोई भी व्यक्ति धर्म के लिए हिंसा न करे और आपस में मिल कर रहे सभी लोग समान हे इस मूवी से पहले भी बहुत मूवी आई हैं। भारत में मूवी का दौर शुरू से रहा हैं, लेकिन इस मूवी ने जो प्रेरणा प्रदान की ऐसी प्रेरणा किसी मूवी से नहीं आई और इस मूवी के बाद देश में बदलाव आया हे और धर्म के नाम पर हिंसा बहुत कम हुई हे। इस मूवी में काम करने वाले किरदार थे सनी देओल, अमीषा पटेल, अमरीश पुरी इत्यादि इन सभी ने इस मूवी आप अपनी महत्व पूर्ण भूमिका निभाई और देश को एक नया मोड़ दिया यह देश के लिए एक महत्वपूर्ण मूवी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...