50 की उम्र हार न मानते हुए शुरू किया दो महिलाओं ने ऑनलाइन स्टोर, आज कमाती है सालाना 2 करोड़ रूपए।

geek monkey success story in hindi

आप भी जानते है की कुछ नया करने का कोई समय या कोई उम्र नहीं होती है। कहते है ना जब जागो तब सवेरा, अपने करियर की शुरुवात करने में कोई बुराई नहीं है। बस बात है आपकी हिम्मत और जज्बे की, आप कितनी मेहनत कर सकते है किसी काम को लेकर। बस आप की मेहनत ही है जो आपको किसी भी काम में एक ऊंचाई पर लाकर खड़ा कर सकती है और उस ऊंचाई पर आप एक सितारा बन कर चमक सकते है।

रिटायरमेंट की उम्र में शुरू किया बिज़नेस

Geek Monkey Success Story in Hindi

आज के इस आर्टिकल में हम आपको ऐसी ही दो महिलाओं के बारे में बताने जा रहे है, जिन्होंने इस उम्र में भी ऐसा काम कर दिखाया है। इस उम्र में अक्सर लोगो का रिटायरमेंट का समय होता है और इस उम्र में इन दोनों महिलाओं जिनका नाम निशा गुप्ता और गुड्डी थपलियाल है, इन्होने ऐसे बिज़नेस की शुरुवात की है जिसके कारण कामयाबी ने इनके कदम चुम लिए है। तो आईये जानते है इनके बिज़नेस के बारे मे।

ऑनलाइन स्टोर शुरू करना चुनौती भरा था

Geek Monkey Success Story

आपकी जानकारी के लिए बता दे इन्होने इस बिज़नेस की शुरुवात अपने ही घर से की, निशा ने ग्रेजुएशन किया हुआ है और यह एक व्यापारी परिवार से है। जिस वजह से इन्हे ग्राहकों से बात करने से लेकर दुकान चलाने तक की पूरी जानकारी है। करीब 3 साल पहले इन दोनों महिलाओं ने इस बिज़नेस की शुरुवात की थी। जहाँ एक तरफ निशा इस चीज में सम्पूर्ण थी, वही गुड्डी के लिए ये चुनौती भरा था क्योकि वह 5 वीं पास थी और उन्हें इस चीज की जानकारी भी नहीं थी।

ऑफलाइन से ऑनलाइन शुरू किया स्टोर

Geek Monkey Success Story

बावजूद इसके उन्होंने अपने मन में आत्मविश्वास रखा और दोनों ने अपने नए कारोबार की शुरुवात की। पहले तो इन महिलाओं ने ऑफलाइन इस बिज़नेस को चलाया फिर निशा के बच्चो ने उन्हें ऑनलाइन इस बिज़नेस को चलाने की सलाह दी, दोनों ने फिर अपने इस बिज़नेस को ऑनलाइन कर लिया।

स्टोर का नाम रखा Geek Monkey

Geek Monkey

इन दोनों के इस ऑनलाइन स्टोर का नाम Geek Monkey है, इन्होने साल 2017 में इसकी शुरुवात की थी। आप भी जानते है की ये कितना चुनौतीपूर्ण होगा क्योकि मार्किट में गिफ्ट आइटम की कितनी सारी ऑनलाइन स्टोर्स है। अब इन लोगो की चुनौती यह थी की दूसरे लोगो की शॉप से कैसे इनकी शॉप अलग दिखे। इन्होने अपनी दुकान को आकर्षित दिखाने के लिए हाथ से बनी ऐसी चीज रखी जिससे इनकी दुकान सबसे अलग लगे। इन्होने अपने स्टोर में हैंडमेड सामान भी रखा, जिससे इनका कारोबार बढ़ने लगा।

आज है सालाना 2 करोड़ रूपए कमाई

Geek Monkey

इन दोनों की यह मेहनत सफल हो गयी और आज इनकी इस शॉप में 99 रुपये से लेकर 13000 रुपये तक का सामान है, जिसमे हैंडमेड गिफ्ट आइटम, कपड़े और भी काफी सारी चीज है। इन दोनों की इस कंपनी का साल का टर्नओवर 2 करोड़ है। निशा और गुड्डी का कहना है की पहले घर वाले भी काम को लेकर मजाक बनाते थे लेकिन अब सब साथ देते है। आप भी इन दोनों महिलों से प्रेरणा लेकर कुछ सीखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...