सूंदर सेल्फी लेने के चक्कर में भाई के सामने ही चली गई बहन मौत के मुँह में।

‘सेल्फी’ लेने के चक्कर में कितने ही लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे हैं पर बावजूद इसके लोगों को समझ नहीं आती। खासकर युवा पीढ़ी इस सेल्फ़ी की बहुत दीवानी है। जहां मौका और कोई अच्छी लोकेशन मिली नहीं की सेल्फी लेना चालू हो जाते हैं। सेल्फी लेते ही सोशल मीडिया पर अपलोड कर लाइक्स और कमेंट्स के इंतजार में रहते हैं कि सेल्फी जितनी अच्छी होगी उतनी तारीफ भी होगी। यूनिक और अच्छी सेल्फ़ी लेने के चक्कर में ये लोग किसी भी हद तक चले जाते हैं। इन्हें बस अपनी अच्छी और सुंदर सेल्फ़ी से मतलब होता है।

indore news

कई सालों से सेल्फ़ी लेने की वजह से होने वाली मौतों में काफी बढ़ोत्तरी भी हुआ है। लोग सेल्फ़ी के चक्कर में अपनी जान की सुरक्षा के बारे में भी नहीं सोचते हैं। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक लड़की के लिए सेल्फी लेना जान लेवा साबित होगा एक सेल्फ़ी ने MBBS स्टूडेंट की इस लड़की की जान ले ली। बुंदेलखंड के एक मेडिकल कॉलेज से MBBS कर रही एक लड़की के लिए सेल्फी लेना खतरनाक साबित हुआ।

इंदौर के राजेंद्र नगर इलाके में रहने वाली 21 वर्षीय नेहा आरसे सागर के बुंदेलखंड से MBBS की पढ़ाई कर रही थी। नेहा थर्ड ईयर की स्टूडेंट थी। वह लॉकडाउन में अपने इंदौर स्थित घर आई थी। लेकिन उसे इस बात का जरा सा भी अंदाजा नहीं था कि वह इंदौर आने के बाद दोबारा अपने कॉलेज पढ़ाई करने नहीं जा सकेगी। शनिवार रात एक हादसे ने नेहा को उसके परिवार से दूर कर दिया। नेहा के पिता राजेंद्र आरसे पॉली हाउस चलाते हैं। नेहा का भाई शनिवार को दुकान पर कुछ सामान लेने आया था। इस दौरान नेहा भी उसके साथ थी।

indore news

वापस घर लौटते समय नेहा की राजेंद्र नगर रेलवे ओवरब्रिज पर सेल्फ़ी लेने की इच्छा हुई। ऐसे में भाई ने गाड़ी रोक दी। इसके बाद नेहा एक अच्छी सेल्फ़ी लेने की तैयारी करने लगी। लेकिन इसके पहले कि वह सेल्फ़ी क्लिक करती उसका रेलवे ओवरब्रिज पर पैर फिसल गया और वह नीचे जा गिरी। नीचे गिरने पर आस पास के लोगों ने उसे अस्पताल पहुंचाया पर नेहा नहीं बच पायी। इस हादसे ने नेहा के घर वालों को पूरा तोड़ दिया। उन्हें क्या पता था कि लॉकडाउन में बिताये ये दो महीने नेहा का उसके परिवार के साथ आखिरी समय होगा। एक सेल्फ़ी ने नेहा की जान ले ली। इसलिए आप भी इस घटना से सबक ले और अपनी जान खतरे में डालकर सेल्फ़ी न लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...