जयपुर में रहता है भगवान राम का वंशज राजपरिवार, पेश किये कई सबूत।

Ram Vanshaj

आज के इस आर्टिकल में हम आपको एक हैरान करने वाला मामला बताने जा रहे है। ये मामला भगवान श्री राम से जुड़ा हुआ है। आपको जानकर हैरानी होगी की इस समय में भगवान राम के वंशज मौजूद है। जी हाँ जयपुर के एक राजपरिवार ने भगवान राम के वंशज होने का दावा किया है। यह परिवार जयपुर में रहता है और इन्होने अपना पक्ष रखते हुए कई साबुत भी पेश किये है। इनका कहना है की वह उनकी 310 वीं पीढ़ी है।

Rajparivar Jaipur

इस परिवार ने दावा क्यों किया, दरअसल जब अयोध्या विवाद का मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा था। तब वहां मौजूद जज ने वकील से पूछा था की भगवान राम के कोई वंशज इस दुनिया में है। तब वकील ने कहा था की हमे इस बात की जानकारी नहीं है। उसके बाद जब यह बात मीडिया में आई तो इस राजपरिवार ने दावा किया की ये भगवान राम के वंशज है।

Ram Vanshaj

इस परिवार ने दावा करते हुए कहा की हम सब भगवान राम के बड़े बेटे कुश के नाम पर ख्यात कुशवाहा वंश के वंशज है। इस परिवार का कहना था की अगर सुप्रीम कोर्ट हमसे सबूत मांगेंगी तो हम सबूत भी पेश कर देंगे। वे लोग कोर्ट को सारे दस्तावेज देने को भी तैयार है। जानकारी के हिसाब से पूर्व राजकुमारी दियाकुमारी ने बताया की जयपुर के महाराजा सवाई जयसिंघ राम भगवान के बड़े बेटे कुश के 289 वे वंशज थे।

Ram Vanshaj

आपकी जानकारी के लिए बता दे की राजकुमारी ने इस बात का सबूत मीडिया के सामने पेश किया। राजकुमारी ने सबूत के तौर पर एक पत्रावली पेश की थी। इस पत्रावली में भगवान राम के हर एक पूर्वज का नाम उल्लेखित है। इसमें 289 वे वंशज के रूप में सवाई जयसिंघ और 307 वे वंशज के रूप में भवानी सिंह का नाम है।

Ram Vanshaj

कहा जाता है की इस घराने का इतिहास 21 अगस्त 1921 को जन्मे राजा मानसिंह के समय से हुआ था। महाराजा मानसिंह ने तीन शादियां की थी। उनकी पत्नियों के नाम मरुधर कंवर, किशोर कंवर और गायत्री देवी थे और उनकी पहली पत्नी के बेटे का नाम भवानी सिंह था। भवानी सिंह की शादी राजकुमारी पद्मिनी से हुआ था और इनका कोई बेटा नहीं था, इनकी एक बेटी है जिनका नाम राजकुमारी दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...