इस शख्स को आइसक्रीम टेस्ट करने के लिए दी जाती है करोड़ों की सैलरी – जीभ का कराया बिमा।

Ice cream news

आइसक्रीम खाना हम सभी को पसंद होता है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की, किसी को आइसक्रीम खाने के लिए करोड़ो रूपए दिए जाते है। आज हम आपको एक ऐसे ही इंसान के बारे में बता रहे है जिसके बारे में सुनकर आपको भी हैरानी होने लगेगी। 

दुनिया भर में आइसक्रीम का बिजनेस किसी भी एल्कोहल के व्यापार को टक्कर देने के लिए काफी माना जाता है, यह भी उसी तरह से फैला हुआ है और सभी को पसंद आती है। भारत समेत दुनियाभर में आज कई आइसक्रीम की ब्रांड हैं, लेकिन इन ब्रांड को आइसक्रीम का सबसे बेहतर स्वाद बताने वाला बस एक ही इंसान है, अमेरिका के जॉन हैरिसन। 

Earning through Ice Cream

जॉन दुनियाभर में आइसक्रीम का सबसे बेहतर स्वाद बताने के लिए जाने जाते हैं, इनको इसके लिए पैसे भी दिए जाते है। यह आइसक्रीम का स्वाद चखकर उसकी गुणवत्ता को परखते है। जब भी कोई आइसक्रीम का नया फ्लेवर बाजार में लाया जाता है, तो वो जॉन की जीभ की रजामंदी लेकर ही आता है। इस काम के लिए जॉन करोड़ों रूपए की सैलरी तक लेते हैं। 

john harrison

आपको बता दे की इनका जन्म 1942 में हुआ है। इनका आइसक्रीम से पुराना नाता रहा है, इनके दादा आइसक्रीम बनाने वाली फैक्ट्री चलाया करते थे। इसलिए जॉन का बचपन से आइसक्रीम खाने और बनाने का शौक जिंदा रहा। हालांकि तब उन्होंने बतौर आइसक्रीम टेस्टर काम करना शुरू नहीं किया था पर तरह-तरह की आइसक्रीम का स्वाद लेना और उसे बेहतर बनाने के तरीके देने के गुण बचपन से ही विकसित होने लगे थे, जिसके बाद यह इस फील्ड में आ गए है।

john harrison Ice cream tester

उन्होंने 1956 में ड्रेयर कंपनी ज्वाइन की, यह कंपनी आइसक्रीम निर्माण का काम करती थी, हालांकि हैरिसन को शुरू में आइसक्रीम टेस्टर का काम नहीं मिला पर उनके दिए गए सुझावों से आइसक्रीम का स्वाद अच्छा होने लगा था। जिसके बाद हैरिसन को आइसक्रीम का फ्लेवर चखने का काम मिला, उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में बताया है कि ड्रेयर कंपनी में रहते हुए 200 मिलियन गैलन से ज्यादा आइसक्रीम चखी है। 

जॉन ने जीभ का करा लिया है बीमा

 john harrison

आपको बता दे की जॉन हैरिसन की जीभ इतनी कीमती है कि उन्होंने इसका 20 लाख डॉलर का बीमा करवा रखा है। वे बताते हैं कि आइसक्रीम खाते समय वे उसे पूरा नहीं खाते, बल्कि चखकर थूक देते हैं। उसके बाद ही वह उसका स्वाद बता देते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...