26 मई को देखा जाएगा लाल चन्द्रमा, कहाँ और कितनी बजे देख पाएंगे साल का सबसे बड़ा ब्लड मून।

Blood Moon

जहाँ पूरा विश्व कोरोना वायरस जैसी महामारी से जूझ रहा हैं तो वही दूसरी ओर बहुत सारी प्राकृतिक घटनाएँ भी बढ़ती जा रही हैं। वहीं 2021 में पहला पूर्ण चंद्र ग्रहण 26 मई को दिखाई देने वाला हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे की चन्द्रमा और सूर्य के बीच पृथ्वी आने वाली हैं। जिसे खगोलीय घटना को दुनिया के कई देशो में देखा भी जा सकेगा। और पिछले महीने ही पूरी दुनिया में पिंक सुपरमून भी देखा गया था। जिसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थी। और अब उम्मीद हैं की आने वाले सप्ताह में दूसरा सुपरमून और भी रोचक दिखाई देने वाला हैं।

कब होता हैं पूर्ण चंद्र ग्रहण ?

Super Moon

आप नहीं जानते होंगे की पूर्ण चंद्र ग्रहण कब होता हैं। आपको बता दे की पूर्ण चंद्र ग्रहण तब होता हैं जब चन्द्रमा और सूर्य के बीच पृथ्वी होती हैं। लेकिन इस बार यह चंद्र ग्रहण इसलिए भी खास हैं क्योकि यह चाँद धरती के इर्द-गिर्द अपनी कक्षा में पृथ्वी के सबसे करीब होगा। जिसके कारण चन्द्रमा बहुत बड़ा दिखाई देगा। कुछ दिनों के बाद के इस सुपरमून पर ग्रहण भी लगेगा जिसकी वजह से यह आकार में ही सबसे बड़ा नहीं बल्कि लाल रंग का भी नजर आएगा। जो की आप 26 मई की रात को देख सकते हैं।

क्यों कहा जाता हैं इसे ब्लड मून ?

Blood Moon

26 मई, बुधवार को ब्लड मून और सुपर मून के साथ पूर्ण चंद्र ग्रहण भी देखा जाएगा। जो की यह खगोलीय घटना वैज्ञानिकों के लिए बहुत ही ख़ास होने वाली हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे की इस दिन पृथ्वी, सूर्य और चन्द्रमा के बीच स्थित होती हैं और पूर्ण चंद्र ग्रहण के कारण यह चाँद काफी लाल दिखाई देता हैं। बता दे की चाँद का नाम ब्लड मून इसलिए रखा गया हैं क्योकि इसकी चमक लाल होगी। जिसके कारण इसे ब्लड मून कहा जा रहा हैं।

कितनी बजे दिखाई देगा सुपरमून ?

Blood Moon

यह सुपरमून सामान्य से ज्यादा बड़ा दिखाई देगा क्योकि यह चाँद पृथ्वी के बहुत करीब होगा। जो की सबसे अच्छी तरह से पश्चिमी भारत, श्रीलंका, पश्चिमी चीन और मंगोलिया में देखा जाएगा। जिसका समय श्रीलंका में स्थानीय समय के अनुसार शाम 6:23 के बाद से ब्लड मून देखा जा सकता है। जो की शाम 7:19 बजे तक समाप्त हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top