महात्मा गांधी गाय-भैंस का नहीं बल्कि इस चीज का दूध पीते थे – स्वाद से लेकर सेहत भी कमाल की रहती है।

Mahatma Gandhi Lifestyle

महात्मा गांधी की जयंती पर हम आपको उनके बारे में कुछ बताने जा रहे है, जो इनके जीवन से जुडी हुई है। शायद आप भी इस बात को नही जानते हो, हर साल भारत में 2 अक्टूबर को उनक जयंती मनाई जाती है।

इस बार उनकी 152वीं गांधी जयंती पुरे देश ने मनाई। महात्मा गांधी का जन्म गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। उन्होंने अहिंसा के दम पर देश का आजादी दिलाने में बड़ा योगदान दिया। तभी से उनको देश ने महात्मा की उपाधि दी थी। आज लोगो को उनके जीवन से जुडी हुई कई चीजे युवाओं को बहुत सी प्रेरणा प्रदान करती है। आपको बता दे की उनका एक सिद्धांत था, की सादा जीवन उच्च विचार।

Mahatma Gandhi Bakri ka dudh pite the

आपको बता दे की वह जानवरों का दूध भी नहीं पीते थे, क्योंकि उनका मानना था कि दूध पशुओं को दुहकर निकाला जाता है इसलिए वह मांसाहार होता है। हम आपको बताते है की बापू कौन सा दूध पीते थे और इसके फायदे क्या है।

Gandhi Ji kiska Dudh Pite The

वह ज्यादातर सब्जियां खाते थे और पूर्ण रूप से शाकाहारी थे। जब लंदन गये थे, तो वो Vegetarian Society का हिस्सा बन गए थे। इतना ही नहीं बाद में गाय का दूध और इससे बनने वाली बाकी चीजों का सेवन भी बंद कर दिया था।

Badam Ka dudh

हालांकि, कमजोर होने पर डॉक्टरों ने उन्हें दूध पीने की सलाह दी तो उन्होंने बकरी का दूध पीना शुरू किया था। इसके अलावा बापू अपने लिए खुद बादाम का दूध बनाया करते थे। बादाम के दूध में कोलेस्ट्रॉल और सैचुरेटेड फैट नहीं होता है और यह लैक्टोज मुक्त होता है। इसलिए इसका सेवन सेहत के लिए ज्यादा बेहतर होता है।

वही बकरी के दूध में कैल्शियम, प्रोटीन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, विटामीन ए, बी2, सी और डी पाया जाता है। यह भी सेहत के लिए बेहतर होता है, इससे कई तरह की बीमारियों को दूर किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...