4 बच्चों की मां है, लेकिन रोजाना 14KM दौड़ती हैं, Mary Kom. जाने 38 साल की चैम्पियन के फिट रहने के तरिके को।

Mary Kom

वर्तमान में महिलाओं को पुरुषों से कमतर नहीं आंका जा सकता है। मैरी कॉम उसी का एक उदहारण है। जिन्होंने ‘मुक्केबाजी’ के दम पर अपनी ताकत दुनिया को बताई है। मणिपुर के एक छोटे से गांव की रहने वाली इस बेटी को अपने खेलने के प्रति कई समस्याओं से जूझना पड़ा है, लेकिन उसके बाद भी इन्होने अपने मुकाम को हासिल किया है। 

38 साल की उम्र में भी मैरी ने बॉक्सिंग में हार नहीं मानी और आज वे इसी जज्बे के साथ ओलपिंक में लड़ीं। भले ही मैरी को इस मेडल ने मिला हो लेकिन उन्होंने देश के लिए बहुत कुछ किया। इसके पीछे उनकी खाश फिटनेस रूटीन और डाइट है जिसके बारे में हम आपको बताते है। 

सर्जरी के बाद भी फिटनेस रूटीन जारी रखा

Mary Kom lifestyle

भारत के लिए बॉक्सिंग करने के दौरान उन्हें अपने जुड़वां बच्चों के दिल की सर्जरी होने के दर्द का भी सामना करना पड़ा था। लेकिन उसके बाद भी वह दुनिया की सबसे सफल महिला मुक्केबाज के रूप में जानी जाती है। इन्होने छह विश्व चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया है। इनकी फिटनेस रूटीन को फॉलो कर दूसरी महिलाएं भी अपनी बॉडी को मजबूत बना सकती

14 किलोमीटर रोजाना दौड़ती है

Mary Kom Gym

मैरी कॉम सुबह रोजाना 14 किमी की दौड़ करती हैं। यह एक बेहतरीन कार्डियो कसरत भी कराती है जो उसके दिल के स्वास्थ्य को बढ़ाता है, इससे इंसान का स्टेमिना बहुत अधिक बढ़ जाता है। शरीर की अनावश्यक चर्बी को भी हटाता है। 

दोपहर में जिम करती है

Mary Kom family

मुक्केबाजी प्रैक्टिस करने के बाद मैरी कॉम दोपहर में जिम जाती हैं। वह वहा पर बॉडीवेट एक्सरसाइज जैसे पुश-अप्स और सिट-अप्स के साथ-साथ हैवी वेट-लिफ्टिंग की exercise करती है। यह सभी शरीर की ताकत बढ़ाने और मसल्स को मजबूत रखने के लिए करती हैं। इस ट्रेनिंग के बाद फिर वापस अपनी मुक्केबाजी अभ्यास को तेज करने के लिए चली जाती हैं।

खाने पिने पर विशेष ध्यान

Mary Kom

मेरी कॉम अपने दिन की शुरुआत एक हेल्दी ड्रिंक के साथ करती हैं। जिसके बाद हैवी नाश्ता लेती हैं, जिसमें हरी सब्जियां, फलों का रस, अंडे और ब्रेड शामिल होते हैं। इसके बाद खाने में यह संतुलित आहार का पालन करना पसंद करती हैं। उनके लंच और डिनर में उबले हुए चावल, दाल, मांस, सब्जियां और रोटियां शामिल होती हैं। रोजाना पूरक आहार लेती हैं, जिससे वह हेल्दी रहे। खुद को हाइड्रेट रखने के लिए दिन भर फलों का जूस और पानी का सही मात्रा में उपयोग करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...