Virendra Sehwag के भांजे Mayank Dangar ने Ranji Trophy में चटके 9 विकेट बने हीरो!

Mayank Dangar Virendra Sehwag

ऐसी कहावत है की बच्चे बाप से ही सीखते हैं, तो वीरेंदर सहवाग (Virendra Sehwag) के भांजे ने उनसे क्या सीखा। अगर हम क्रिकेट की बात की शुरुआत करते है और उसमे वीरेंदर सहवाग का नाम उसमे ना लिया जाए तो अधुरा लगता है। वीरेंदर सहवाग हमेशा से आक्रामक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते है। वीरेंदर सहवाग चाहे टेस्ट हो या टी-20 वे हमेशा से ही आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करते है। आज हम शेवग के भांजे की बात करने वाले है, उनके भांजे ने रणजी ट्राफी में क्या कमाल कर दुखाया है।

मयंक डांगर का जलवा 

रणजी ट्रॉफी में वीरेंदर सहवाग की दीदी के बेटे मयंक डंगर (Mayank Dangar) हिमाचल प्रदेश की और से खेल रहे है। उनकी बढ़िया देन्द्बाजी के चलते उन्हें अंडर-19 वर्ल्ड कप टीम में भी शामिल कर लिया गया है। गेंदबाजी के साथ साथ उनका बल्लेबाजी में भी हाथ साफ़ है। हाल में हुई रणजी ट्राफी (Ranji Trophy) के मैच त्रिपुरा और हिमाचल प्रदेश के मैच में मयंक ने अपनी गेंदबाजी का जलवा दिखाया। उनकी गेंदबाजी का जवाब कोई भी बल्लेबाज नहीं दे पा रहा था। उन्होंने त्रिपुरा के  खिलाफ हुए पुरे मैच में 9 विकेट चटकाए।

मयंक हिमाचल की तरफ से खेलते हुए रणजी ट्राफी में पहली पारी में कुल 21.2 ओवर में 55 रन देकर 5 विकेट झटके और 5 मेडेन ओवर निकाले। वही दूसरी पारी में उन्होंने 13.4 ओवर गेंदबाजी की और 30 रन देकर 4 विकेट गिराए। मयंक डागर हिमाचल के लिए सबे किफायती और सफल गेंदबाज साबित हुए। इस प्रकार मयंक ने कुल 85 रन देकर 9 विकेट चटकाए।

Back To Top
error: Please do hard work...