एक चाय वाला बन गया चार साल में करोड़पति। जानिये इनकी सक्सेस स्टोरी को।

mba chaaywala

हम सभी जानते है की कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है। कोई चाय वाला प्रधानमंत्री बन सकता है और कोई चाय वाला चाय बेचकर करोड़पति बन सकता है। आज हम आपको एक ऐसे ही चाय वाले की स्टोरी बताने जा रहे है, जिसमे वह 4 साल में करोड़पति बन गया। 

जानिए प्रफुल्ल के बारे में

MBA Chaaywala Success Story

जब प्रफुल्ल कॉलेज में थे, तब फेल हो गए, इसलिय उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी और चाय बेचने लगे। चाय भी इस तरह से बेचना शुरू की, जिसके बाद उन पूरा देश उसे चाय वाले के नाम से जानने लगा। और बहुत कम समय में नाम और पैसा दोनों उन्होंने कमाया है। 

MBA Chaaywala Success Story

प्रफुल्ल हालांकि एमबीए करना चाहते थे। आईआईएम जैसे अच्छे संस्थान में एडमिशन हो, इसके लिए कैट का एग्जाम भी दिया, लेकिन फेल हो गए। इससे वह MBA नहीं कर पाए। परीक्षा में लगातार फेल होने के कारण वे निराश रहने लगे थे, कुछ दिनों बाद उन्होंने अहमदाबाद में पिज्जा की एक दुकान में 37 रुपये प्रति घंटे की नौकरी मिल गई और काम मिला डिलीवरी बॉय का लेकिन वह ऐसा खुश नहीं थे। ऐसे में उन्होंने खुद का बिजनेस शुरू करने के बारे में सोचा। लेकिन उनके पास इतने पैसे नहीं थे की खुद का कोई व्यापर कर सके। कम पूंजी में बिजनेस करने की चाहत में उनको चाय की दुकान का आइडिया आया। अपने पैरेंट्स से 8,000 रुपये लिए और अहमदाबाद के एसजी हाइवे पर चाय का ठेला लगाना शुरू कर दिया।

चाय बेचने के लिए लगाया आईडिया

MBA Chaaywala

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शुरुआत में प्रफुल्ल का चाय का बिजनेस नही चला पास ज्यादा ग्राहक नहीं आते थे। ऐसे में उन्होंने फैसला किया कि चाय पीने के लिए लोग उनके पास आएं या न आएं, वे ही अपनी चाय को लोगों तक पहुंचाएंगे। इसके लिए उन्होंने ग्राहक से इंग्लिश में बात करने लगे जिससे लोग हैरान रह जाते थे। इस तरह धीरे धीरे प्रफुल्ल के ग्राहक बढ़ते चले गए और उनकी कमाई हर महीने हजारों में पहुंच गई।

MBA Chaaywala Success Story

लोगों के इंटरटेनमेंट के लिए प्रफुल्ल अपनी चाय की टपरी पर ही ओपन माइक लगवा देते थे। वेलेंटाइन डे पर उन्होंने सिंगल लोगों को फ्री में चाय दी जिसके कारण वह सोशल मीडिया पर भी काफी प्रचलित हुए। इसके बाद वह शादियों में चाय की स्टॉल लगाने लगे। एमबीए चायवाला ‘MBA Chaiwala’ नाम के पीछे की कहानी के बारे में प्रफुल्ल बताते हैं कि उन्होंने अपने टी स्टॉल का नाम ‘मिस्टर बिलौरे अहमदाबाद चायवाला’ रखा था, जिसे शॉर्ट में MBA चायवाला कहा जाने लगा इस से उनका नाम फेमस हो गया। 

जब उनके इस आईडिया को देखा तो लोग उनकी फ्रेंचाइजी लेने के लिए तैयार हो गए, आज पूरे देश में उनकी कुल 11 फ्रेंचाइजी है। वे मोटिवेशनल स्पीकर है और कई कॉलेजों में लेक्चर भी दे चुके हैं। वह शादियों में भी चाय बनाने जाते हैं और एक दिन के 50 हजार चार्ज करते हैं। आज उन्होंने इसके माध्यम से अच्छा पैसा कमाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...