लगातार 5 घंटे काम नहीं कर सकते कर्मचारी देना होगा 30 मिनट का ब्रेक जाने क्या है नया नियम!

New Wages Code

सरकार के नए नियमो के अनुसार मिल, फैक्ट्री या अन्य ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए एक नया नियम बनाया गया है, जिससे मजदूरों, और वर्कर्स को फायदा पहुंचेगा। यह फायदा किसी तरह से पैसे से नहीं जुड़ा है, लेकिन इससे उनके स्वस्थ पर काफी असर होने वाला है और पहले से ज्यादा आराम के साथ अब काम करने में सफल रहेंगे। जानिये क्या है नया नियम।

New Wages Code

आने वाले महीने में कई नए बदलाव आपको देखने के लिए मिल सकते है। क्योंकि नए वेज कोड (New Wages Code) की चर्चा ने एक बार फिर जोर पकड़ लिया है, इसके बारे में अभी से कई तरह की चर्चाये होने लगी है। 1 अप्रैल से नया वेज कोड लागू होना था, लेकिन श्रम मंत्रालय ने इसे कोरोना की वजह से कुछ समय से टाल दिया था। अब इसे इसी साल जुलाई से लागू किया जा सकता है।

New Wages Code

इसके माध्यम से नौकरीपेशा लोगों के सैलरी स्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है, इसमें कई नए नियमो को जोड़ा गया है। इससे हो सकता है की कर्मचारी के इन हैंड सेलरी पर असर हो और वह कम आये। इसके साथ ही उन्हें ज्यादा सुविधाएं मिले इसके ऊपर भी ध्यान दिया गया है। इसके साथ ही काम के घंटे, ओवरटाइम, ब्रेक टाइम जैसी चीजों को लेकर भी नए लेबर कोड में प्रावधान किए गए हैं, जो जुलाई से लागु होंगे।

जानिये क्या है, New Wage Code में

New Wages Code Rule

सरकार द्वारा अब तक चल रहे 29 श्रम कानूनों को मिलाकर 4 नए वेज कोड तैयार किए हैं, जिसके माध्यम से कई नए नियमो को बनाया है जिसमे प्रमुख है।

  1. इंडस्ट्रियल रिलेशंस कोड
  2. कोड ऑन ऑक्‍यूपेशनल सेफ्टी
  3. हेल्‍थ एंड वर्किंग कंडीशंस कोड (OSH)
  4. सोशल सिक्‍योरिटी कोड और कोड ऑन वेजेज

वेज कोड एक्ट 2019 के मुताबिक, किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी कंपनी की लागत के 50 परसेंट से कम नहीं हो सकती है। वर्तमान में कई कंपनियां बेसिक सैलरी को काफी कम करके ऊपर से भत्ते ज्यादा देती हैं, जिससे कंपनी पर बोझ कम पड़े और उन्हें ज्यादा सुविधा हो।
इसका असर कर्मचारी के PF पर भी पड़ेगा। कर्मचारियों का पीएफ ज्यादा कटेगा यह नियम का भविष्य सुरक्षित हो पाएगा पी एस के साथ – साथ ग्रेजुएटी में भी योगदान बढ़ जाएगा। लेकिन इससे मिलने वाली मासिक सेलेरी कम हो जाएगी। और रिटायरमेंट के समय उनके पास ज्यादा रकम होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...