पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों से मीटिंग के दौरान दिया 3T का मंत्र – जाने आगे मंत्र के बारे और आगे की रणनीति

3t Mantra

देश में कोरोना फिर से एक बार लौट कर आया है और इस बार पहले के मुकाबले ज्यादा तेज़ी से आ रहा है। अगर देखा जाये तो मार्च 2020 में जो कोरोना संक्रमण की स्थिति थी वह मार्च 2021 में काफी तेज़ी से बढ़ रही हैं। प्रधानमंत्री कोरोना पर अपनी नज़र बनाए हुए है और यही कारण है की पीएम मोदी ने एक बार फिर से सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों से वर्चुअल मीटिंग की और कोरोना से रोकथाम के बारे में बात की।

प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से कहा की छोटे शहरों में कोरोना की जांच को बढ़ावा दिया जाए और साथ ही गांव में कोरोना के संक्रमण को बढ़ने से पहले ही आगाह किया जाए। हालांकि प्रधानमंत्री मोदी के साथ बैठक में गृहमंत्री अमित शाह में शामिल हुए लेकिन बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बैठक में शामिल नहीं हुए।

प्रधानमंत्री ने दिया 3T का मंत्र

प्रधानमंत्री की सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक में मोदी ने 3T का मंत्र दिया जिसका मतलब है “टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट”। इस मंत्र को देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा की हमे टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट के साथ भी उतना ही गंभीरता से रहना होगा जितना की हम पिछले एक साल से कोरोना के रोकथाम में हैं। साथ ही कहा की हमे हर संक्रमित व्यक्ति के संपर्क को कम से कम समय में ट्रैक करना होगा और इसके साथ ही RT-PCR टेस्ट रेट को 70 प्रतिशत से ज्यादा रखना बहुत ही जरुरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top
error: Please do hard work...