मोदी के इस निर्णय से आज पूरा देश और भारतीय सेना सुरक्षित है, उनके इस निर्णय ने हम सभी को बचा लिया।

PM Modi on Talibaan

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा से ही निर्णय लेने में सफल रहे है और वह अपने देश के लिए सही निर्णय लेते आये है, आज एक ऐसा ही फैसला उन्होंने अपने देश के लिए लिया है जिससे आज हमारे देश के साथ साथ हमारी भारतीय सेना भी सुरक्षित है। हाल ही में एक निर्णय जिसकी सबसे अधिक तारीफ़ की जा रही है वो अफगानिस्तान से जुड़ा हुआ है, जो यदि समय पर नहीं लिए जाता तो उससे कहि न कहि देश को भारी नुकशान उठाना पड़ सकता था।

फैसला न लिया होता तो आज हालात खराब होते

PM on talibaan

यह फैसला अफगानिस्तान से जुड़ा हुआ है। अफगानिस्तान की अशरफ गनी की सरकार ने अपनी सरकार और देश को बचाने के लिए अमेरिका के बाहर निकल जाने के बाद मे भारत से रिक्वेस्ट की थी कि वो अपनी सेना को हमारी सुरक्षा के लिए भेजे। इसके लिए उन्होंने मदद की गुहार लगाई थी। जिसमे कम से कम अपनी वायुसेना को हमारे पास में भेजे जो हमारा सपोर्ट करे और इससे हम लोग तालिबान को हरा देंगे। लेकिन इस फैसले को लेने से पहले मोदी जी दुविधा में पड़ गए थे। क्योकि अफगान सरकार भारत की अच्छी खासी दोस्त थी और ऐसे में भारत के सामने कड़ा फैसला लेने की बारी थी।

भारत का निर्णय सही साबित हुआ

PM with army

इस स्थिति में भारत ने अपनी पुरानी नीति को ही फॉलो किया और अपनी कोई भी फ़ोर्स अफगानिस्तान में नही भेजने का निर्णय किया। और वह सही था, अभी जो भी अफगानिस्तान में हुआ है उसमे अफगानिस्तान के जो भी सैनिक है वो हर बेस और एयरबेस से तालिबान के आते ही तुरंत भाग खड़े हुए ऐसे में हमारे भारतीय सैनिक उनकी मदद कैसे कर सकते थे। ऐसे में हो सकता था कि भारत की सेना भी इन लोगो के बीच में फंस कर के रह जाती और स्थिति गंभीर हो सकती थी, और हमारे सैनिको का निकलना मुश्किल हो सकता था।

PM Modi

आज मोदी सरकार ने स्थिति को पहले से ही भांप लिया था जिसके कारण इस तरह की कोई स्थति नहीं बनी है। मोदी जी ने निर्णय लिया कि अब से अफगानिस्तान की रिक्वेस्ट पर भी हम उन्हें किसी तरह का मिलिट्री असिस्टेंस उपलब्ध नही करवाएंगे इससे हम सभी खतरे में आ सकते है। हालाँकि भारत पर उस समय विश्व कम्यूनिटी का दबाव काफी अधिक था लेकिन इसके बावजूद भारत ने यह निर्णय लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...