रंजना ने पुराने बाथटब में उगाए मोती, पहली बार में ही हुआ 80 हज़ार का मुनाफा – जानिए पूरी प्रक्रिया।

Ranjana Yadav Pearl Farming

आपने सुना होगा की मेहनत करने वालो की कभी हार नहीं होती। ये बात जिसने भी कही है बहुत सही कही है। ऐसे मेहनत करने वाले लोग अपनी मंजिल को आसानी से पा लेते है। हम जानते है कुछ लोग ऐसे होते है जो आपकी मेहनत को सफल नहीं होने देते, बल्कि आपको देख कर जलन की भावना रखते है, लेकिन मेहनत करने वाले लोग कभी अपना आत्मविश्वास कम नहीं होने देते और अपनी मंजिल को हासिल कर ही लेते है।

घर वाले नहीं चाहते थे की बिज़नेस करे

Ranjana Yadav Pearl Farming

आज हम आपको इस आर्टिकल में ऐसे ही मेहनत से आगे बढ़ने वाली लड़की के बारे में बताने जा रहे है। यह लड़की उत्तरप्रदेश के आगरा की है जिसका नाम रंजना यादव है। रंजना ने जब अपनी पढ़ाई पूरी कर ली तो आगे उन्होंने बिज़नेस करने की सोची। रंजना ने फॉरेस्टरी से एमएससी कर रखी थी, तो उन्होंने मोतियों की खेती करने का सोचा। उन्हें बचपन से ही मोतियों से बहुत लगाव था।

जब उन्होंने अपने घर वालो से ये बात कही तो उन्होंने मना कर दिया, क्योकि उनका मानना था की उनके घर में किसी ने पहले बिज़नेस नहीं किया तो सफल होगा या नहीं। उनके घर वाले रिस्क लेने से डर रहे थे। उनको लग रहा था की ये काम सफल नहीं होगा। इसके बाद रंजना ने अपनी काबिलियत दिखाने के लिए अपने घर के पुराने बाथ टब में ही मोती की खेती शुरू कर दी।

पहली बार में हुआ इतना मुनाफ़ा

Pearl Farming

आपको जानकर हैरानी होगी की अपनी पहली ही कोशिश में रंजना को 80 हजार का मुनाफा हुआ। और उनकी इस सफलता को देख कर उनके घर वाले भी इस काम के लिए तैयार हो गए। साथ ही रंजना अपने इस बिज़नेस को आगे बढ़ाने के लिए ट्रेनिंग के लिए भुवनेश्वर गई है। आख़िरकार रंजना ने अपनी मेहनत को साबित किया और अपने घर की पहली बिज़नेस वूमेन बनी।

इतना समय लगता है मोती तैयार होने में

Pearl Farming

रंजना ने बताया की मोती बनाने की प्रक्रिया कठिन होती है और मोती तैयार होने में 10-12 महीने लगते है। इस खेती में बहुत ही ध्यान देना पड़ता है। इसमें सिप को पहले तो ऐसे ही छोड़ना होता है फिर सात दिनों तक विशेष प्रकार के पानी में डुबोकर रखना होता है और तो और पानी के तापमान और उसकी सफाई का खास ध्यान रखना होता हैं। आज रंजना के इस बिज़नेस से रंजना और उनके घर वाले सभी बहुत खुश हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top