इस लड़के ने कबाड़ इकट्ठा कर बनाये सूंदर फर्नीचर, आज उसी से कमा रहा करोड़ों रूपए।

recycled tyre furniture old scrap recycling drums business

कभी कभी कबाड़ उस तरह से कार्य करता है जिसे तरिके से हमारी नई वस्तुए भी कार्य नहीं कर पाती है। हम आपको आज वेस्ट में से बेस्ट बनाने वाली कला के बारे में बताने जा रहे है। जिसे अहमदनगर के 28 वर्षीय प्रमोद सुसरे ने करके दिखाया है। 

इनके द्वारा इंडस्ट्रियल वेस्ट को अपसाइकल करके, गार्डन, कैफ़े और होटल्स के लिए बेहद अनोखे फर्नीचर बनाये जाते है। उन्होंने यह कार्य 2018 में, नौकरी करते हुए फर्नीचर बनाना शुरू किया। हुनर और कड़ी मेहनत के दम पर, उन्हें इस तरह से कबाड़ से बनाये जाने वाले फर्नीचर के लिए ऑर्डर्स भी मिलने शुरू हो गए। इस कार्य से उन्होंने तीन साल के अंदर उन्होंने एक करोड़ से ज्यादा का मुनाफ़ा कमाया।

kabad product

आज उनके इस कार्य से 15 लोगों को रोजगार दे रहे हैं। जब कोरोनाकाल में जब ऑर्डर्स नहीं मिल रहे थे, तब उन्होंने अपने पास उपलब्ध सामान से सैनिटाइजर डिस्पेंसर मशीन, कोविड हॉस्पिटल्स के लिए बेड आदि बनाने का काम भी किया। उन्हें बेल्डिंग करने का कार्य भी आता है। 

नौकरी के साथ शुरू किया बिज़नेस

kabad product

प्रमोद ने, कबाड़ से इस तरह के फर्नीचर बनाने के काम नौकरी करते हुए शुरू किया था। उन्होंने उन्होंने अहमदनगर से ही इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। इसके बाद वह, पुणे की एक कंपनी में मेंटेनेंस इंजीनियर का काम करने लगे। घर की आर्थिक स्थिति को देखते हुए, उन्होंने नौकरी करना शुरू कर दिया। उस दौरान वह बिज़नेस आईडियाज़ के बारे में सोचते रहते थे।

ऐसे मिला आईडिया

Drum Business

एक बार सोशल मीडिया के जरिए उन्होंने देखा कि जापान में ड्रम और टायर का इस्तेमाल करके बेहद सुंदर फर्नीचर बनाए जा रहे हैं। इसलिए उन्होंने अपनी  फैक्ट्री के पास मौजूद अन्य कम्पनी से ड्रम वगैरह को कबाड़ में जाते देखा तो प्रमोद ने कुछ टायर और ड्रम्स बड़े ही सस्ते दाम पर खरीदे, और सेकंड हैंड दुकान से ड्रिल मशीन सहित जरूरत की बाकी चीजें लाकर काम करना शुरू किया। उसके बाद वह ऑफिस से आकर हर दिन चार पांच घंटे फर्नीचर बनाने का काम करने लगे। इससे लेकिन उस समय उन्हें खरीदने वाला कोई नहीं था। 

इसलिए उन्होंने इन्हे आस-पास के जूस सेंटर में उसे रख दिया और उनके मालिक को अपना नंबर भी बता दिया ताकि जिसे जरूरत हो फ़ोन पर पूछ सके | इस तरह उन्हें कुछ छोटे-छोटे ऑर्डर्स मिलने शुरू हो गए। जिसके बाद उन्होंने नए नए फर्नीचर बनाना शुरू किया और आज उन्हें कई आर्डर आ रहे है और इससे वह अच्छा पैसा भी कमा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...