आज़ाद भारत में पहली बार किसी महिला (शबनम) को दी जाएगी फांसी, जुर्म जानकर हैरान हो जाओगे।

Shabnam Fansi

क्या आपने सुना है की किसी महिला को फांसी हुई हैं। नहीं सुना होगा क्योकि आज तक ऐसा हुआ ही नहीं हैं। आज हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे है जो देश की पहली महिला है जिसे फांसी होगी। यह फांसी उत्तरप्रदेश के मथुरा में महिला जेल में दी जाएगी। आपकी जानकारी के लिए बता दे इस महिला को फांसी पवन जल्लाद देने वाले हैं।

इस वजह से होगी शबनम को फांसी

दरअसल इस महिला का नाम शबनम हैं और यह अमरोहा की रहने वाली हैं। इस महिला का जुर्म यह है की इसने परिवार के 7 लोगो की हत्या कुल्हाड़ी से की थी और जब से ही यह जेल में हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे की शबनम ने राष्ट्रपति को एक पात्र लिखा था जिसमे उसने फांसी की सजा माफ़ करने की गुहार लगाई थी।

राष्ट्रपति ने शबनम की याचिका को खारिज कर दिया है अब जल्द ही शबनम को फांसी दी जाएगी। अभी यह नहीं पता है की किस तारीख को शबनम को फांसी दी जाएगी, लेकिन मथुरा जेल में फांसी घर की मरम्मत चल रही हैं। आईये देखे शबनम ने ऐसा क्यों किया था। यह 13 साल पहले की बात है जब शबनम ने अपने प्रेमी के साथ मिल कर अपने माता पिता सहित परिवार के 7 लोगो को मौत्त के घाट उतार दिया।

शबनम ने सबको बेहोशी की दवाई दे दी और उसके बाद कुल्हाड़ी से सबकी हत्या करदी। यहाँ तक की शबनम ने अपने भाई के 10 महीने के बेटे अर्श को भी बेहोश करके गला दबा कर हत्या करदी। जब यह मामला पुलिस में पहुंचा तो पता चला की शबनम गर्भवती थी और उसके परिवार वाले उसकी शादी सलीम नामक उसके प्रेमी से करवाने को तैयार नहीं थे। इसी वजह से शबनम ने अपने प्रेमी संग मिल कर उसके परिवार के लोगो की हत्या करदी।

शबनम ने जेल में एक बेटे को जन्म दिया। जन्म के कुछ समय बाद शबनम के बेटे को उनके एक दोस्त उस्मान सैफी नामक इंसान को सौंप दिया। शबनम ने अपने बेटे को उस्मान को सोपते हुए 2 शर्त रखी। पहली तो यह की उसके बेटे को कभी उसके गावं ना ले जाया जय क्योकि उसकी जान को खतरा हैं और दूसरी यह की उसका नाम बदल दिया जाये। शबनम और उसका प्रेमी दोनों अलग अलग जेल में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top