सर पर चोटी रखने का फायदा – इसके कुछ वैज्ञानिक कारण भी है। जाने क्या है वह कारण।

Sikha rkhne ke fayde

क्या आप जानते हैं? कि सिर पर सिखा (चोंटी) रखने से क्या होता है। इसके पीछे क्या कारण है, अपने कई बार ब्राह्मण और गुरुजनों को अपने सिर पर शिखा रखते हुए देखा होगा। अगर आपको ऐसा लगता है, किसी का परंपरा या पहचान का तरीका है तो आप बिल्कुल गलत है, शायद आप इसके वैज्ञानिक कारण नहीं जानते हैं, हम आज आपको शिखा के वैज्ञानिक करने के बारे में बताएँगे। इससे आप जान पाएंगे कि हमारे पूर्वज हजारों वर्ष पहले विज्ञान के बारे में कितना कुछ जानते थे। आधुनिक वैज्ञानिकों ने भी इसे सिद्ध किया है, तो आइए जानते हैं, शिखा (चोंटी) रखने के प्रमुख वैज्ञानिक कारणो के बारे में।

Benefits of sikha

हमारी शिखा जहाँ होती है उसके निचे सुषुम्ना नाड़ी होती है, शरीर का यह हिस्सा दूसरे अंगो की अपेक्षा ज्यादा संवेदनशील होता है। खुली शिखा से वातावरण से उष्मा एवं विधुत-चुम्बकीय तरंगो बड़ी ही सरलता से मस्तिष्क से आसान प्रदान हो जाता है। अगर शिखा नहीं होती है तो, मस्तिष्क का ताप वातावण के साथ बदलता रहता है। मस्तिष्क का सुचारु रूप से चलने के लिए ताप तो नियंत्रित रखना जरुरी है। शिखा के बिना यह सम्भव नहीं है। शिखा से मस्तिष्क का तापमान संतुलित रहता है।

scientist benefits of sikha

1. शिखा (चोटी) को जगह बुद्धि और मन, शरीर के अंगों और अन्य को नियंत्रित करने का स्थान है। शिखा धार्मिक प्रतीक होने के साथ साथ मस्तिष्क को संतुलित रखता है। कई लोग इसे रुढ़ीवाद बताते है, लेकिन शिखा रखना पूर्णत: वैज्ञानिक है।

2. शिखा के आकार की बात करे तो यह गाय के पैर के खुर के बराबर की होनी चाहिए। सिर के बीच में सहस्राह चक्र होता है। चक्र का आकार गाय के खुर जितना माना गया है। शरीर, बुद्धि मन पर नियंत्रण करना आसान हो जाता हैं। रक्त प्रवाह भी तेज होता है।

3. बताया जाता है की यदि प्राण सहस्राह चक्र से निकलना अच्छा माना गया है। इससे मुक्ति मिलती है। और शिखा से प्राण आसानी से निकल जाते है। और मृत्यु के बाद कुछ ऐसे अवयव होते है जी आसानी से नहीं, निकल पाते है। मृत्यु के बाद शरीर को जलने से सर फट जाता है और इससे अवयव बाहर निकल जाता है। शिखा होने के कारण अवयव को से निकल जाता है।

4. इससे नेत्र की ज्योति सुरक्षित रहती है। शिखा से मनुष्य के स्वस्थ अच्छा रहता है बल बढ़ता है, तेजस्वी और लम्बी आयु प्राप्त होती है।

5. योग और आध्यात्म को रिसर्च में वैज्ञानिक माना गया है। चोटी के सम्बन्ध में बहुत ही रोचक जानकारी आई है। शिखा से मन शांत होने से जीवन में सफलता प्राप्त होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...