बोगस कंपनी में चपरासियों को बना रखा था डायरेक्टर – इस तरह की गई सोनू सूद की टैक्स चोरी में मदद।

Sonu sood tax scam

आयकर विभाग की टीम ने खुलासा करते हुए बताया की उत्तर प्रदेश के कानपुर में इनवॉइस जारी करने वाली कंपनी रिच ग्रुप और रिच उद्योग के मालिकों ने अपने कई चपरासियों को इसमे डायरेक्टर बना रखा था। इस मामले जाँच की जा रही है।

कुछ दिन पहले ही इस बात का खुलासा आयकर विभाग की संयुक्त टीमों ने छापों के बाद किया थी। जांच करने पर कई कागजी कार्यवाही गलत तरीके से सामने आई थी। कम्पनी में फर्जी बिलिंग की पुष्टि के बाद आयकर विभाग ने जांच का दायरा और बढ़ा दिया है।

मीडिया रिपोर्ट में सामने आया है की, अभिनेता सोनू सूद के द्वारा लखनऊ के इंफ्रास्ट्रक्चर समूह में निवेश के लिए रिच समूह के जरिए फर्जी बिल भी जारी किए गए हैं। खबर में बताया गया है की लखनऊ के इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रुप में अभिनेता सोनू सूद के संयुक्त उद्यम अचल संपत्ति परियोजना में निवेश किया गया है उनके द्वारा इस कम्पनी में अपना पैसा लगाया है।

Sonu Sood

निवेश की गई इनकम टैक्स चोरी और बीजिंग में गड़बड़ी करके किया गया है। इसमें 65 करोड़ की फर्जी बिलिंग की गई है जिसकी जाँच आयकर विभाग द्वारा की जा रही है। इसके साथ ही डिजिटल डाटा एंट्री स्क्रैप की बिक्री में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी मिली है।

इसके साथ ही बताया गया है की, जयपुर स्थित कंपनी में 175 करोड़ के लेन-देन की भी तलाशी की जा रही है। इस दौरान आयकर विभाग को 1.8 करोड़ रुपए कैश भी मिला है।

Sonu Sood Tax Scam

पुरे मामले में सीबीआई द्वारा बयान जारी किया गया है, उसमे बताया की आयकर विभाग ने मुंबई में बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद और इंफ्रास्ट्रक्चर कारोबार में लगे लखनऊ के ग्रुप में मुंबई लखनऊ कानपुर जयपुर दिल्ली और गुरुग्राम स्थित 28 परिसरों की जांच कि हैं इसमें से टैक्स चोरी से जुड़े अहम दस्तावेज मिले है।

अब आगे की जांच आयकर विभाग द्वारा की जाएगी। इसके बाद ही इन कंपनियों की सारी गड़बड़ी सामने आ सकती है। बताया जा रहा है की इसमें 20 लोगो ने इस काले कारनामे की पुष्टि कर दी है, जिनके नाम अभी सामने नही लाये गये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...