एक ऐसी ताकतवर रानी, जो हारे हुए सैनिक के साथ एक रात गुज़ारने के बाद उसका कत्ल कर देती थी – अमीना

Story of queen amina

हम यदि इतिहास उठा के देखते है, तो उसमे आपको कई रानियों का जिक्र मिलता है, जिसमे कुछ अपनी शक्ति और साहस का परिचय देती है और किसी ने क्रूरता की सभी हदो को पार कर दिया था। आज हम आपको ऐसी ही रानी के बारे में बताने जा रहे है, जो सेनिको के हारने के बाद उनके साथ एक रात गुजारने के बाद उनको जान से मार देती थी। 

ज़ाज़ाऊ यानि ‘ज़रिया’ साम्राज्य की रानी अमीना

Queen Amina Story

कहा जाता है कि रानी अमीना ने ‘ज़रिया’ साम्राज्य को अपने तरिके से विस्तार किया था, जिसे अभी तक किसी ने नहीं किया था। रानी अमीना युद्ध कौशल में निपुण और साहसी थी। यही कारण था कि उन्होंने अपने साम्राज्य को बढ़ाने के लिए कई युद्धों में विजय हासिल की, उन्होंने अपने जीवन युद्ध लडे और उनमे विजय प्राप्त की। रानी ने अपने तेज़ दिमाग़ और ताक़त का इस्तेमाल कर वहां किले बंदी से लेकर व्यापार तक का विस्तार किया और अपने साम्राज्य का विस्तार किया। 

कडूना के जाज़ा क्षेत्र में हुआ था जन्म

Queen Amina

अमीना का जन्म 1533 में कडूना के जाज़ा क्षेत्र में हुआ था, उनकी मां का नाम रानी बकवा द हाबे था। उन्होंने कम उम्र में राज्य को संभाला था। अमीना ने छोटी सी उम्र से ही सैन्य के क्षेत्र में ट्रेनिंग लेना शुरू कर दिया था, अपने दादा के साथ साम्राज्य का काम देखने लग गयी थी। 

अमीना का छोटा भाई बना था साम्राज्य का शासक

Queen Amina Story

1566 में अमीना की मृत्यु हो गयी थी जिसके बाद उनके भाई करामा को ज़ाज़ाऊ साम्राज्य का नया शासक बना दिया गया। उन्होंने भी ज़ाज़ाऊ कैल्वेरी और मिलिट्री में एक बहादुर योद्धा के तौर शासन किया। इस दौरान उन्होंने धन और शक्ति दोनों दोनों ही पाये। साल 1576 में करामा की मृत्यु हो गई, जिसके बाद अमीना को साम्राज्य की नई हाबे के तौर पर चुना गया

सैनिक के साथ रात गुजारती और उन्हें मार डालती

Queen Amina Story in hindi

अमीना ने 20 हज़ार लोगों की विशाल सेना का किया नेतृत्व और युद्ध किया था। इसके साथ ही उन्होंने जीते हुए शहरों का विलय अपने राज्य में कर लिया था। इसके साथ यह भी माना जाता है की, अमीना जिस राज्य को हराती, उसके एक सैनिक के साथ रात गुज़ारती और सुबह होने के बाद उस सैनिक को मार डालती थी। ताकि वह किसी और को अमीना के बारे में ना बता पाए। 

उन्होंने कभी शादी नहीं की और लगभग 34 सालों तक ज़ाज़ाऊ पर राज किया। नाइजीरिया के बिदा में लड़ते-लड़ते उनकी मृत्यु हो गयी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...