सुहागरात के पहले ये जरुरी काम खत्म करले, इनको अनदेखा किया तो दांपत्य जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ेगा।

Suhagrat par ye glti n kare

अगर आप चाहते है की आपका भी वैवाहिक जीवन खुशियों से भरा हो और कोई परेशानी या दुःख न आए तो आपको बता दे की सुहागरात से पहले कुछ ऐसे कार्य होते है जिन्हें दूल्हा दुल्हन को पूरा करना बहुत ही जरूरी होता है। कुछ ऐसे कार्य होते है जिन्हे दूल्हा और दुल्हन दोनों को ही करना चाहिए जिससे की जीवन में सुखों की कमी न हो। तो चलिए आपको बताते है वह कार्य जिसकी वजह से आपका दांपत्य जीवन भी खुशियों भरा हो।

घर के कुल देवी और देवताओं की पूजा

सुहागरात के पहले घर के कुल देवी-देवताओं की पूजा जरूर करना चाहिए। क्योकि इनकी पूजा करते समय इनसे आशीवार्द लिया जाता है की आपका नया जीवन अच्छे से गुजरे और वंश भी आगे बढ़े। माना तो यह भी जाता है की वंश को आगे बढ़ाने के लिए सुहागरात के दिन ईश्वर की यह पूजा की जाती है।

अपने पूर्वजों की पूजा

शादी में कई तरह की रस्मे पूरी की जाती है। जिसमे से एक रस्म यह भी है की अपने पूर्वजों की पूजा की जाती है और उन्हें याद किया जाता है । माना जाता है की पूर्वजों की पूजा करने से ऐसा आशीवार्द मिलता है जिससे जीवन में संतान सुख की प्राप्ति होती है। कहा जाता है की पूर्वजों की पूजा किये बिना सुहागरात मनाने से संतान सुख की प्राप्ति नहीं होती हैं। इसलिये सुहागरात के दिन पूर्वजों की पूजा करना न भूले।

पति को जरूर पिलाएं दूध

आपको बता दे की दूध को चंद्र और शुक्र की वस्तु माना जाता है और शुक्र प्रेम और वासना का कारक ग्रह हैं ऐसे में पति को दूध पिलाने से शादी में प्रेम बढ़ता हैं। और यह परम्परा काफी सदियों से चली आ रही हैं।

मुंह दिखाई

सुहागरात के दिन पति जब पत्नी का चेहरा देखता है तो उसे मुंह दिखाई देता हैं। माना जाता है की यह परम्परा भगवान राम जी ने शुरू की थी। राम जी ने सुहागरात को देवी सीता की मुंह दिखाई के दौरान वचन दिया था की वह एक पतिव्रत रहेंगे। जिसके कारण भगवान राम ने कभी दूसरी शादी नहीं की। और यह कहा जाता है की जब पति पत्नी को सुहागरात के दिन तोहफा देता है तो इसका अर्थ यह होता है की वह उसकी जरूरतों को पूरा कर सकता हैं।

बड़े बुजुर्गो का आशीर्वाद लेना

जब हम नया जीवन शुरू करते है तो हमे बताया जाता है की हमेशा किसी भी नई चीज़ या नई यात्रा से पहले बड़े बुजुर्ग का आशीवार्द लेना जरुरी होता हैं। ऐसे में सुहागरात से पहले बड़े – बुजुर्गों का आशीवार्द लेने से वैवाहिक जीवन सुखी रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top