शास्त्रों के अनुसार ये चार चीजों में से एक भी चीज़ मृत्यु के समय पास रहे तो मिलता है मोक्ष।

death ke samay ye chize hona chahiye

सनातन धर्म में गरुड़ पुराण को बहुत महत्व दिया जाता है, कहते है की इस धर्म में यह सब बताया गया है की जब एक मनुष्य मृत्यु को प्राप्त होता है तो उसे क्या सत्गति मिलती है। इसलिए हिन्दू धर्म में कहा जाता है की घर में किसी की मृत्यु के बाद गरुड़ पुराण श्रवण का बहुत महत्व है। इसमें ज्ञान, भक्ति, सदाचार, वैराग्य और निष्काम की महिमा तो बताई है उसी के साथ दान, यज्ञ, तीर्थ और तप आती शुभ कामो के फलो का भी वर्णन हैं।

Garud

कहा जाता है की जिस इंसान के जैसे कर्म होते है वैसा ही फल उसको मिलता है, जिन लोगो के कर्म अच्छे होते है वह स्वर्ग में जाता है और जिनके बुरे होते है वो नरक में। पर कहा जाता है की जब एक इंसान देह त्यागता है तो उसके पास इन चार चीजों में से कोई भी एक चीज होती है तो वह यमराज के दंड से बच जाता है, आईये बताते है कौन सी है वो चार चीज।

Tulsi

तुलसी – तुलसी के पौधे का महत्व तो आप जानते ही होंगे और यह हर हिन्दू धर्म वाले घरो में पाया जाता है। कहते है की जब किसी व्यक्ति की मृत्यु का अंदेशा हो जाता है तो उसके मुँह में तुलसी का पत्ता रख देते है, इसके पीछे करण यह है की तुलसी का पत्ता बहुत ही पवित्र और पूजनीय होता है। गरुड़ पुराण के अनुसार ऐसा करने से मृत्यु के बाद उस इंसान को यमराज का दंड नहीं भुगतना पड़ता और उसे आसानी से मुक्ति मिलती है।

Bhgwat gita

श्रीमदभगवत गीता का पाठ – कहा जाता है की अगर किसी व्यक्ति की मृत्यु श्रीमदभगवत गीता का पाठ करते हुए होती है तो वह भी यमराज के दंड से बच जाता है और उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है। कहते है की किसी इंसान को प्राण त्यागने में परेशानी आती है तो भी श्रीमदभगवत गीता का पाठ उसके सामने किया जाये तो उसे आसानी से मुक्ति मिलती है।

Bhgwan

ईश्वर का नाम – इस बात का भी बहुत महत्व है अगर किसी व्यक्ति के प्राण जाने से पहले वह प्रभु का नाम लेता है तो वह भी यमराज के दंड से बच जाता है और उसे भी भगवान के चरणों में स्थान मिलता है।

ganga jal

गंगाजल – हिन्दू धर्म में गंगाजल का भी बहुत महत्व है कहते है की जब किसी व्यक्ति के प्राण निकल रहे हो तो उसके मुँह में गंगाजल और तुलसी जल डाल दिया जाये तो भी उसे यमलोक में कोई दंड नहीं भोगना पड़ता और आसानी से मोक्ष मिल जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...