इसमें से कोई भी एक वास्तु दोष आपकी शादीशुदा ख़ुशहाल जीवन में ला देगा भूचाल, जानिए कैसे?

Vaastu Dosh

घर क्या है, घर सिर्फ एक ढांचा है तब तक जब तक उसमे कोई रहे ना। एक घर तब ही घर बनता है जब उसमे कोई रहता है। घर को घर इंसानो के रहने के बाद ही कहा जाता है। एक घर भले ही महल जैसा क्यों ना हो जब तक उसमे रहने वाले इंसानो के बीच में प्यार और स्नेह नहीं होता तब तक एक घर कभी घर नहीं कहलाता। घर को सिर्फ ईंट और पत्थरो से बनाया जा सकता है, लेकिन उसे घर तब ही कहा जायेगा जब उसमे रहने वालो के बीच में खुशी और प्यार होगा।

घर बनाने से पहले ये काम जरूर करले।

Home Image

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले है की कभी भी घर को बनाने या खरीदने से पहले एक बार वास्तुशिल्प को जरूर ध्यान में रखे। कई बार लोग जल्दबाज़ी में बिना वास्तु देखे घर बना लेते है, लेकिन उन्हें बाद में इसका हर्जाना भुगतना पड़ता है। खास कर नव दम्पति को शादी के बाद इस चीज का जरूर ध्यान रखना चाहिए नहीं तो उनके रिश्ते बिगड़ने का खतरा रहता है।

Married Life

एक नव दम्पति अपने जीवन में यही सोच कर कदम रखते है की उनका जीवन सदा सुखमय हो और दोनों के बिच में बहुत प्यार हो, लेकिन कभी कभी कुछ ऐसे कारण की वजह से नव दम्पति के रिश्तो में कड़वाहट होने लगती है और आये दिन घर में कलह और झगड़े होने लगते है। इसलिए ही हम आपको बताने जा रहे है की नव दम्पति के जीवन में घर के वास्तु की भूमिका बहुत ही अहम होती है। तो आईये देखे की आपको घर बनवाते या लेते समय किस तरह वास्तु देखना चाहिए।

घर में इन बातों का खास ध्यान रखे

जब भी आप घर बनवाये बैडरूम का जो स्पेस है उसे ध्यान रखे, जो नव दम्पति का बैडरूम होता है वह उत्तर-पश्चिम में होना सही माना जाता है। इस दिशा में बैडरूम होने से दोनों नव दम्पति के बीच रूचि बनी रहती है और उनके सम्बन्ध भी अच्छे रहते है।

आपके रूम में जो बेड होता है उसकी दिशा का भी खास ख्याल रखना चाहिए। उस बेड की डिज़ाइन पेचीदगी नहीं होनी चाहिए, बेड वर्गाकार और लकड़ी का होना चाहिए और बेड का जो सिरहाना होता है वो दक्षिण या फिर पश्चिम दिशा में होना चाहिए।

अगर आपके घर में दक्षिण-पूर्व में कोई रूम है तो उस रूम को नव दम्पति को उपयोग नहीं करना चाहिए, नहीं तो वैवाहिक जीवन में हमेशा कलह बना रहता है।

नव दम्पति को अपने बैडरूम में हल्के रंग का उपयोग करना चाहिए और अपने रूम में हमेशा सफाई रखना चाहिए।

अक्सर आपने देखा होगा की नव दम्पति के कमरे में ड्रेसिंग टेबल होता है और उसमे बड़ा सा कांच भी होता है। आपके बैडरूम में कांच का होना आपके रिश्ते में दरार का कारण बन सकता है। हो सके तो ड्रेसिंग को कमरे से बाहर ही रखे।

अक्सर बैडरूम में नव दम्पति की या फिर परिवारजनों की फैमिली फोटो होती है, इस फोटो को हमेशा दक्षिण-पश्चिम दिशा में लगाए। ताकि आपके घर में प्यार का माहौल बना रहे।

अगर आप घर बनवा रहे है तो किचन हमेशा दक्षिण-पूर्व के कोण पर बनवाये।

सबसे खास बात बहार से आने वाले इंसान की नजर सीधे आपके बेड पर नहीं होना चाहिए इससे आपके नए जीवन में हमेशा कलह बना रहता है और आपके बैडरूम में ज्यादा दरवाजे भी नहीं होना चाहिए। अगर टॉयलेट आपके शयनकक्ष में है तो उसका दरवाजा हमशा बंद रखे, जिससे नेगेटिव ऊर्जा आपके कमरे में ना आये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...