यह एथलीट ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतकर भी अपनी मनपसंद लड़की से शादी नहीं कर पाएगा। वजह हैरान करने वाली

artem dolgopyat

जापान की राजधानी टोक्यो में 32वें ओलंपिक खेलों का समापन बीते दिनों हो गया है। यहां पर कई देश के युवा खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से पूरी दुनिया को प्रभावित किया है और कई खिलाड़ियों ने इसमें हिस्सा लेकर गोल्ड मेडल भी जीते है। आज हम आपको एक ऐसे खिलाडी के बारे में बतायेगे जिसने इन खेलो में गोल्ड जीता है, लेकिन फिर भी इसकी शादी अपनी मनपंसद लड़की से नहीं हो पायेगी। 

तो कई खिलाड़ियों को निराशा भी झेलनी पड़ी

Neeraj Chopra Javelin throw Video

हर खिलाडी का सपना होता होता है की, गले में ओलंपिक का कोई न कोई मेडल जरूर हो। भारत की ओर से नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो में स्वर्ण पदक जीतकर हिंदुस्तान का तिंरगा लहराया।

इजरायली खिलाड़ी आर्टम दोलगोपायट ने टोक्यो में जीता गोल्ड

Israel Gold medalist artem dolgopyat

हम आज बात कर रहे है, इजरायल के जिम्नास्ट आर्टम दोलगोपायट की जिसने टोक्‍यो ओलंपिक में गोल्‍ड मेडल जीतकर अपना सपना तो पूरा किया, लेकिन उनका एक व्यक्तिगत सपना यही भी अधूरा है। आर्टम को अपने निजी जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।  वह एक लड़की से प्यार करते हैं और उसके साथ शादी करना चाहते हैं लेकिन उनका ये ख्वाब पूरा होना फिलहाल संभव नहीं हैं |

इजरायल का कानून बन रहा बाधक

Israel law

यूक्रेन में जन्में इजराइली जिम्नास्ट आर्टम ने जब इजराइल की तरफ से ओलंपिक खेलों में दूसरा गोल्‍ड जीता तो उन्हें राष्ट्रीय नायक बताया गया और पूरे देश ने उनकी सराहना की, आपको बता दे की इनके पिता यहूदी हैं लेकिन मां नहीं। यहूदी धार्मिक कानूनों के अनुसार ‘हलाचा’ के तहत किसी को यहूदी तभी माना जाएगा जबकि उसकी मां यहूदी हो। इस धार्मिक कानून के कारण पूर्व सोवियत संघ के देशों से लौटे हजारों लोगों को भेदभाव का सामना करना पड़ता है।

artem dolgopyat

आर्टम की मां ने कहा कि इजरायल के रूढ़िवादी कानून की वजह से बेटे को यहूदी नहीं माना जाता है और उन्हें अपनी महिला मित्र से शादी करने की इजाजत नहीं मिलेगी। और यहां की सरकार बेटे को यह शादी करने की अनुमति नहीं देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...