वैश्या कि जिंदगी होती है काफी दर्दनाक सच जानकर हो जाएंगे दंग

Vaishya

भारत जैसे सांस्कृतिक देशों में वेश्यावृत्ति को नीच दर्जे के काम के रूप में माना जाता है और जो लोग इस काम से जुड़े रहते हैं। उन्हें भी काफी नीची नजरों से देखा जाता है। यह एक ऐसा धंधा होता है, जिसमें यदि कोई एक बार घुस जाए, तो बाहर निकलना बेहद मुश्किल हो जाता है। शायद ही दुनियाभर में कोई भी ऐसा देश होगा जहां पर वेश्यावृत्ति ना होती हो। कुछ जगह पर यह काम चोरी से होता है, तो कई जगहों पर इसे कानूनी मान्यता प्राप्त की गई है। ऐसा ही एक देश है, बांग्लादेश जहां इस तरह के काम को कानूनी मान्यता प्राप्त है।

बांग्लादेश को दुनिया भर में सबसे बड़ी वेश्यावृति बाजारों में से एक माना जाता है। यह बात तो लगभग सभी जानते हैं, कि यह काम कोई भी जानबूझकर नहीं करना चाहता है। इस काम को करने के पीछे कोई ना कोई मजबूरी जरूर छुपी होती है और मजबूरी के ही तौर पर जब कोई महिला इस काम में घुस जाती है, तो फिर वहां से दोबारा निकल कर आना मुश्किल हो जाता है। ऐसी ही एक कहानी हम बताने जा रहे हैं
जिसे सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे।

वेश्यावृति की गड है बांग्लादेश

Vaishya Life

हम बात कर रहे है बांग्लादेश की, यहां लगभग 200 साल से भी ज्यादा पुराने वैश्यालय बांग्लादेश के हर कोने में बने हुए हैं। इन्हीं में से एक है, तंगेल जिले के कंडापारा इलाके का वेश्यालय जो इस देश का सबसे पुराना और बड़ा वेश्यालय है। इसे देश भर में दूसरे स्थान का वैश्यालय माना जाता है। बांग्लादेश सरकार ने इसे 2014 में खत्म करा दिया था। लेकिन अभी भी वहां के कुछ गैर सरकारी संगठन मिल कर इसे फिर से बना रहे हैं। यहां काम करने वाली महिलाओं ने स्वीकार किया है, कि यहां उन्हें काम करना बिल्कुल पसंद नहीं है। परंतु वे मजबूरी में यह काम करती हैं।

इस काम में 12 से 14 वर्ष की लड़कियों की तादाद ज्यादा होती है। रिपोर्ट के अनुसार, जब भी इस धंधे में किसी नई लड़की को लाया जाता है, तो उसे शुरुआत में बंधुआ बनाकर रखा जाता है। खासकर यह नई लड़कियां 12 से 14 वर्ष के भीतर की होती है। इन लड़कियों को कोठे में लाकर बेच दिया जाता है। जिसे जबरदस्ती इस धंधे में उतार दिया जाता है। वह अपने मन से इस तरह के काम बिल्कुल नहीं करती, वह कोठे के मालकिन के इशारों पर सारे के सारे काम करती हैं। इन लड़कियों को तब तक इस धंधे में रहना पड़ता है। जब तक कि उनको खरीदने के लिए जितने पैसे कोठे की मालकिन ने चुकाया होता है। इन्हीं कर्ज को चुकाने के लिए लड़कियों को इस धंधे की आदत लग जाति है। जिसके बाद इस धंधे से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है।

बेहद दूर तक फैला है यह धंधा

Vaishya Life Untold Story

दरअसल यह धंधा बहुत बड़े लेवल का बन चुका है। दरअसल इस धंधे में कुछ ऐसा होता है, कि मासूम लड़कियों को पकड़कर जबरदस्ती यहाँ ले आते हैं जिसके बाद उन्हें कहीं ना कहीं बेच दिया जाता है। इसकी शिकार हुई लड़कियों को सम्मोहन के जरिए कुछ ऐसा कर दिया जाता है, कि वह ना तो अपनी बात किसी से कह पाती है और ना ही किसी को अपना दर्द बता पाती है।

पुलिस भी हाथ पर हाथ धरे बैठी है।

दरअसल यह धंधा इतना बड़ा और ऊंचे स्तर का हो चुका है, कि पुलिस भी इन पर बिल्कुल ध्यान नहीं देती और ना ही इन धन्दो पर वह ध्यान देना चाहती है, क्योंकि अधिकतर इन धंधों के पीछे किसी ना किसी बड़े मंत्री और नेता की हाथ अवश्य होती है। इन्हीं बड़े लोगों की नेतृत्व में इस तरह के धंधे को चलाया जाता है। ऐसे में पुलिस इन मामलों के पीछे पड़ कर अपनी नौकरी और जान गवाना नहीं चाहते और इसी वजह से वे इन मामलों पर अक्सर पर्दा डालते रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top