Video: Virat Kohli ने किया अपने सबसे बुरे समय का खुलासा! कहा “नहीं बता सकता किन परिस्थितियों से जूझ रहा हूं”

Virat Kohli on his form

इंडियन टीम (Team India) के मौजूदा समय में विराट कोहली (Virat Kohli) स्टार बल्लेबाज है और उन्होंने दिग्गजों की सूचि में अपना नाम शामिल कर लिया है। 4 मार्च को विराट कोहली अपने टेस्ट करियर का 100 वे नंबर का मैच खेलने वाले है, इसके बाद वे अपने नाम एक और बड़ी उपलब्धि जोड़ लेगे। लेकिन विराट कोहली का समय और फॉर्म दोनों की बहुत ख़राब चल रहा है, बीते 2 साल उनके जीवन में काफी चुन्तियो भरे रहे है। साल 2021 उन्हें हमेशा याद रहेगा क्योकि उस साल में उन्हें नाम के आगे से कप्तान शब्द हट चूका था, उनसे तीनो फॉर्मेट की कप्तानो की चीन ली गयी।

विराट कोहली (Virat) का फॉर्म लम्बे समय से ख़राब चल रहा है, वे बड़ी पारी खेलने में  नाकाम रहे है। एक समय था जब कोहली हर दुसरे मैच में शतक जड़ते थे पिछले 2 साल से उनके बल्ले से एक भी शतक नही निकला है। उनके बुरे समय के चलते विराट कोहली ने एक पॉडकास्ट के जरिये अपने दिल की बात फेंस से शेयर की है, उसमे उन्होंने बताया की जब चीजे उनके बस में नही होती तब वे कैसे खुद को सम्भालते है।

विराट के करियर का सबसे मुश्किल पॉइंट

जीवन में बड़े मुकाम पर पहुचने के बाद हर व्यक्ति के जीवन में यह दौर आत है जहा उसे नाकामी हाथ लगने लग जाती है। वही दौर से विराट कोहली अबी गुजर रहे है। आईपीएल फ्रैंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के पॉडकास्ट में विराट ने कहा कि

“मैं आपको अपने ट्रेनिंग वीडियो दिखा सकता हूं, महीने के महीने मैं क्या कर रहा हूं ये दिखा सकता हूं ताकि आप प्रेरित हो सकें, मगर किसी के लिए ये जानना मुश्किल है कि अंडर प्रेशर खेलकर टीम के लिए 200 प्रतिशत देना और जीत में योगदान देना कैसा होता है। और जब चीजें ठीक नहीं चल रही होती तो आप अपनी अपेक्षाओं को कैसे मैनेज करना है ये करियर का सबसे चैलेंजिंग प्वॉइंट होता है।”

कप्तानी छोड़ने के फैसले पर ये बोले Virat Kohli

“जब मुझे कोई फैसला लेना होता है तो वह मैं ले लेता हूं, मगर तब लोग रिएक्ट करने लगते हैं। मैं पिछले 7-8 साल से खेल रहा हूं तो लोग कहते हैं इसे हर एक मैच खेलना चाहिए। दिन के अंत में मैं लोगों को नहीं बता सकता कि मैं एक व्यक्ति के रूप में किन परिस्थितियों से जूझ रहा हूं।”

Back To Top
error: Please do hard work...