बंगाल में BJP महिला कार्यकर्ताओं के साथ ज्यादती – दीदी का असली चेहरा आया सामने।

पश्चिम बंगाल में 2 मई कोई ही चुनाव परिणाम सामने आए है और लोगों ने तीसरी बार ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर भरोसा करते हुए पूर्ण बहुमत दिलाया हैं। और आज 5 मई को ममता ने तीसरी बार मुख्यमंत्री की शपथ ली हैं। लेकिन इन सब के बीच ही बंगाल में वो सब शुरू हो गया है जिसके कारण बंगाल जाना जाता हैं। जैसे ही चुनाव परिणाम आए है तब से बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं की के साथ मारपीट और लूट का सिलसिला शुरू हो गया हैं। जिसमे कई लोगों की जान चली गई हैं। लेकिन इस पर ममता बनर्जी कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रही हैं।

बता दे की तृणमूल के गुंडों के द्वारा साथ मारपीट, महिलाओं के साथ ज्यादती के बाद ननूर में बीजेपी ने तृणमूल के गुंडों पर अपनी दो महिला कार्यकर्ता के साथ ज्यादती करने का आरोप लगाया है। हालांकि पश्चिम बंगाल पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से इस बार का साफ़ इंकार किया हैं। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट वकील प्रशांत पटेल उमराव ने अपने ट्वीट के माध्यम से इस बात की जानकारी दी। उन्होंने लिखा, “ननूर, बीरभूम के भाजपा प्रत्याशी की 2 इलेक्शन एजेंट के साथ TMC के मुस्लिम गुंडों नें ज्यादती किया है, जिसमे से 1 गायब है। वहां हजारों हिन्दू जान बचाने के लिए घर छोड़कर अज्ञात स्थान पर भागे हैं। पूरे बंगाल में हिंसा का तांडव हो रहा है, कहाँ हैं भद्र बंगाली?”

बंगाल के ननूर में जिस तरह से हालात बेकाबू हो रहे है उसे देखते हुए पूर्व सांसद स्वप्न दासगुप्ता ने भी ट्वीट अपने ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया है कि – “नानूर (बीरभूम जिले) में एक हजार से अधिक हिंदू परिवार इन हमलावरों से बचने के लिए अपने घर छोड़कर भाग गए है। महिलाओं से छेड़छाड़ या बदसलूकी की खबरे आ रही है। उन्होंने साथ ही अमित शाह को भी टैग किया और उनसे मदद मांगी है।”

आपको बता दे कि बंगाल में सिर्फ एक जगह के हालात ख़राब नहीं हैं पूरे बंगाल में कई जगह पर हिंसा और आगजनी हो रही है। जिस पर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने एक वीडियो शेयर करते हुए अपने ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि कुछ लोग एक महिला के साथ बदसलूकी करते हुए दिख रहे है। इसके साथ ही विजयवर्गीय का दावा है कि टीएमसी के मुस्लिम गुंडे नंदीग्राम के केंदमारी गॉंव में इस महिला बीजेपी कार्यकर्त्ता को पीट रहे है। इसके साथ ही उन्होंने दावा किया है कि नतीजों के बाद से बंगाल में 9 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है। हालांकि आपको बता दे कि अभी तक बंगाल में 28 बीजेपी कार्यकर्ताओं कि हत्या के मामले सामने आ गए है।

इसके साथ ही निशीथ प्रमाणिक कूच बिहार से सांसद है जिन्होंने इस हिंसा पर अपने ट्वीटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा है कि, “कूचबिहार नटबारी, नाताबारी, दिनहट्टा, सिताई विधानसभा क्षेत्रों में टीएमसी के गुंडे हिंदू घरों पर हमला कर रहे हैं, मंदिर को तोड़ रहे हैं, महिला के साथ ज्यादती कर रहे हैं और लोगों को मार रहे हैं। सत्ता में आने के बाद यह नई सरकार क्या कर रही है। मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं और MHA और @ jdhankhar1ji से जल्द से जल्द हस्तक्षेप करने का आग्रह करता हूं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top