बिना कपड़ों के ये तीन काम कभी भूल से भी ना करें, वरना पड़ेगा महंगा – जानिये क्या है, ये 3 काम।

Without Cloth

हमारे जीवन में कई काम ऐसे है, जिन्हे करने से हमे पुण्य प्राप्त होता है, और कई काम ऐसे है, जिन्हे करने से हमे पाप लगता है। हम कई कार्यो को जाने अनजाने में कर देते है, जिसका हमे कभी न कभी भुगतान करना होता है। आज हम आपको कुछ ऐसे काम के बारे में बतायेगे जिन्हे आप बिना कपड़ों के भूल कर भी नहीं करना चाहिए। 

अगर बात की जाये कपड़ों की तो, कपड़े भी इंसान की जिंदगी में अहम किरदार निभाते हैं, इसके साथ ही यह इंसान की पर्सनालिटी को भी दर्शाते है। वहीँ कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें खुले और ढीले कपड़े पहनना अधिक पसंद आता है, लेकिन हम आपको ऐसे कामो के बारे में बतायेगे जो आपको कभी भी बिना कपडे के नहीं करना है। 

बिना कपड़े कभी नहीं नहाएं

bina kpdo ke nhana

हम आपको बताना चाहते है की चाहे स्त्री हो या पुरुष उसे कभी भी बिना कपडे के नहीं नहाना चाहिए। हमारे ग्रन्थ विष्णु पुराण में बिना कपड़ो के नहाना सख्त मना किया गया है। इसके लिए विष्णु पुराण के बाहरवें पन्ने पर साफ़ साफ़ ज़िक्र किया गया है कि इंसान को नहाते समय कभी भी बिना कपड़ों के नहीं नहाना चाहिए। अपने शरीर को कपड़ो से ढंक कर ही नहाना चाहिए। इस तरह से नहाना शास्त्रों में वर्जित माना गया है। 

निर्वस्त्र होकर सोना है महापाप

bina kpdo ke sona

साइंस के अनुसार बिना कपड़ों के सोना सबसे ज्यादा फायदेमंद है, लेकिन यह हमारे शास्त्रों के अनुसार सबसे ज्यादा गलत माना गया है।  बिना कपडे के शरीर को अच्छी नींद मिलती है, लेकिन दूसरी तरफ विष्णु पुराण में बिना कपड़ों के सोने से साफ़ साफ़ मना किया गया है।  इसका कारण उन्होंने चन्द्रमा को माना है, ऐसे सोने से हम चंद्र भगवान का अपमान करते हैं। इसके साथ ही रात के समय में हमारे पूर्वजों की आत्माएं और पित्रों का आना जाना होता है, इससे वह हमारी नग्न अवस्था देख कर भडक जाते हैं। 

बिना कपड़ों के आचमन भी ना करें

bina kpdo ke aachman krna

लोग नदी में आचमन के दौरान कपड़े नहीं पहनते, लेकिन ऐसा करना हमारे लिए पाप है। ऐसा करने पर हम देवी देवताओं का अपमान करते हैं। शास्त्रों के अनुसार आचमन करते समय इंसान के शरीर पर बिना सिले हुए कपड़े अवश्य होने ही चाहिए। इसलिए आचमन और पूजा के पवित्र समय में कपड़े पहनना जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top
error: Please do hard work...